डिग्री और डिप्लोमा में क्या अंतर है





डिग्री और डिप्लोमा में क्या अंतर है? (What is the difference between a degree and diploma in Hindi.)

वैसे तो डिग्री और डिप्लोमा कोर्स में काफी अंतर हैं लेकिन कभी-कभी स्टूडेंट्स को समझ नहीं आता की वे आगे क्या करे और यह डिप्लोमा और डिग्री क्या होता हैं ?

इस आर्टिकल के द्वारा हम विस्तारपूर्वक जानेंगे की डिप्लोमा और डिग्री में क्या अंतर है। तथा आपको भविष्य में क्या करना चाहिए।



डिग्री और डिप्लोमा क्या होता है:

डिप्लोमा 1 से 2 साल की अवधि के लिए होती हैं। डिप्लोमा कोर्स किसी विश्वविद्यालयों या फिर अन्य किसी संस्थानों द्वारा करवाई जाती हैं।

जबकि डिग्री कोर्स 3 से 4 साल के अवधि के लिए होता हैं। इसकी डिग्री मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालयों द्वारा दी जाती हैं।

डिग्री और डिप्लोमा में क्या अंतर है:




  • डिप्लोमा कोर्स की फीस डिग्री कोर्स की तुलना में काफी कम होती हैं।
  • डिप्लोमा कोर्स में कभी-कभी आपकी एंट्री डायरेक्ट हो जाती हैं, जबकि डिग्री कोर्स में ऐसा नहीं होता, डिग्री कोर्स में एडमिशन के लिए आपको entrance exam देने की आवश्यकता पड़ती हैं।
  • डिप्लोमा कोर्स में आपको किसी भी विषय का ज्ञान उतना नहीं मिल पता जितना की डिग्री कोर्स से मिलता हैं। क्योकि डिग्री कोर्स 3 से 4 साल का होता हैं। और इसकी क्लास रेगुलर (Regular) भी होती हैं, जिससे आपको depth knowledge मिलती हैं।
  • डिप्लोमा कोर्स में नौकरी की संभावना तभी मुमकिन हैं, जब आपने अपनी पढाई अच्छी तरह से की हो क्योकि डिप्लोमा कोर्स में नौकरी placement द्वारा अच्छी सैलरी की नौकरी आसानी से मिल जाती हैं।




डिग्री और डिप्लोमा कोर्स का फायदा तथा नुकसान:

  • अगर स्कोप की बात करे तो यह स्टूडेंट के ऊपर निर्भर करता हैं वैसे तो डिप्लोमा करने वाले स्टूडेंट भी ऊंचे पद पर जॉब करते हैं, डिग्री कोर्स का स्कोप डिप्लोमा की तुलना में ज्यादा हैं।
  • जिन स्टूडेंट्स के पास कम समय हैं तथा वे पढ़ना भी चाहते हैं ऐसे में डिप्लोमा कोर्स, डिग्री कोर्स की तुलना में अच्छा ऑप्शन हैं।
  • डिग्री कोर्स कम अवधि का होता हैं जिससे नौकरी जल्द मिल जाती हैं जबकि डिग्री कोर्स में आपको काफी लम्बे समय तक के लिए इंतज़ार करना पड़ता हैं।
  • जिस विषय में डिप्लोमा कोर्स किया हो उसी विषय में आप आगे जाकर डिग्री कोर्स भी कर सकते हैं।
  • डिग्री कोर्स आप 10 वीं के बाद भी कर सकते हैं जबकि डिप्लोमा कोर्स आप 12 वीं पूरी होने के बाद ही कर सकते हैं।
  • 10 वीं के बाद डिप्लोमा कोर्स करके आप आपने परिवार को आर्थिक सुविधा प्रदान कर सकते हैं लेकिन दूसरी तरफ 12 वीं तक की रेगुलर कोर्स का महत्व इसकी तुलना में अधिक हैं।




कुछ टॉप डिंप्लोमा कोर्स:

  • Diploma course of gym instructor
  • Diploma in Yoga Education
  • Diploma in Culinary Arts
  • Diploma in Acting and Anchoring
  • Marine field related Diploma courses
  • Diploma in Beauty Culture & Hair Dressing
  • Diploma in Laboratory Technician
  • Diploma in Clinical Nutrition & Dietetics
  • Diploma in Information Technology




कुछ टॉप डिग्री कोर्स:

  • Bachelor of Commerce
  • Bachelor of Business Administration
  • Bachelor of Science
  • Bachelor of Technology
  • Bachelor of Law
  • Master of Business Administration
  • Master of technology
  • Master of Commerce

दोस्तों वैसे देखा जाय तो डिग्री कोर्स करना ही उचित हैं जिससे आपको किसी भी विषय का अच्छा ज्ञान होगा साथ ही साथ अच्छी सैलरी वाली जॉब मिलेगी और आपका करियर भी अच्छा बनेगा।

Related posts:

होटल मैनेजमेंट क्या हैं, होटल मैनेजमेंट कैसे करें, और होटल मैनेजमेंट क्यों करें

MBA क्या हैं, MBA कैसे करे, और MBA क्यों करें  

CA क्या हैं, CA क्यों करें, CA कैसे करें ?

इस आर्टिकल द्वारा हमने डिग्री और डिप्लोमा में क्या अंतर है इसके बारे में जाना।

अगर आपको इससे रिलेटेड कोई भी सवाल पूछने हो, तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *