12वीं के बाद टॉप 10 करियर ऑप्शन





दोस्तों बहुत से स्टूडेंट ये डिसिशन नहीं ले पाते कि 12वी पास होने के बाद क्या करें, 12वी के बाद कौन सी डिग्री लें। आज इस पोस्ट में हम आपको 12वीं के बाद टॉप 10 करियर ऑप्शन (Top 10 career options after 12th in Hindi)  के बारे में बताएँगे।

जिससे आपको अपने लिए एक सही ऑप्शन चुनने में आसानी होगी।

विद्यार्थियों के लिए करियर एक बहुत महत्वपूर्ण विषय हैं। और जब हम बात करते हैं करियर चुनाव की तो कभी कभी इसका चुनाव कर पाना बहुत मुश्किल हो जाता हैं।

विद्यार्थिओं को 12 वीं के बाद समझ नहीं आता की वे किस विषय को लेकर आगे बढ़े या फिर किस ऑप्शन का चुनाव करें ।

आज इस आर्टिकल द्वारा आपको करियर चुनाव में ज्यादा परेशानी नहीं होगी।

वैसे तो करियर आपके रूचि  के ऊपर निर्भर करता हैं लेकिन साथ ही साथ सही मार्ग दर्शन का होना भी आवश्यक हैं।



12वीं के बाद टॉप 10 करियर ऑप्शन:

आज आप इस आर्टिकल के द्वारा टॉप करियर ऑप्शन के बारे में विस्तारपूर्वक जानेंगे, जिससे आप अपनी रूचि के अनुसार अपने करियर का चुनाव आसानी से कर सकते हैं।

Fashion Designing (फैशन डिजाइनिंग ):

जो लोग क्रिएटिव होते है वे लोग इस industry में काफी अच्छा करते है या फिर बहुत आगे जाते हैं ।

फैशन डिजाइनिंग एक कला हैं, तथा जिन्हें cloths तथा accessories designing आदि में काफी रूचि हैं, वे लोग यह कोर्स करते हैं ।

यह एक डिग्री तथा फुल टाइम कोर्स हैं जिसे आप 12 वीं पास करने के बाद कर सकते हैं ।

योग्यताएं (Eligibility):

  • किसी भी स्ट्रीम से पास 12 वीं के विद्यार्थी इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं ।
  • इस कोर्स के रेगुलर कोर्स (Regular course) में एडमिशन के लिए आपके 12 वीं के 50 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं ।

आवश्यक स्किल (Required Skills):

  • Good Communication Skills
  • Creative Thinking
  • Goal Oriented
  • Positive Thinker
  • Presentable





फैशन डिजाइनिंग के लिए बैचलर डिग्री (bachelor degree for Fashion Designing): 

  • Des Fashion Design
  • BA (Hons.) Fashion Design
  • BSc Fashion Design
  • BSc Fashion Design & Technology

फैशन डिजाइनिंग के लिए एंट्रेंस एग्जाम (Entrance exams for Fashion Designing): 

  • AIEED, CEED, NIFT तथा NID.

फैशन डिजाइनिंग टॉप कॉलेज (Top colleges for Fashion Designing):

  • JD Institute of Fashion Technology, Delhi
  • National Institute of fashion technology
  • Pearl Academy
  • Symbiosis Institute of Design

फैशन डिजाइनिंग कोर्स के बाद सैलरी (Expected salary after Fashion Designing course):

किसी अच्छे इंस्टिट्यूट (Institute) से इस कोर्स को करने के बाद आपकी सैलरी शुरुवात में 65,000- 1,50,000 तक हो सकती हैं।

फैशन डिजाइनिंग में जॉब देने वाली टॉप कंपनी ( Top recruiters in the Fashion Industry ):

  • Levis
  • Pantaloons
  • Benetton
  • Spykar
  • Raymond’s

Pilot (पायलट) :

पायलट बनना किसी सपने से कम नहीं हैं लेकिन कुछ लोग अपने जूनून के कारण पाइलट बनना चाहते हैं।

इस करियर ऑप्शन का चुनाव आप 12 वीं के बाद कर सकते हैं।

पायलट बनने के लिए बहुत से पड़ाव से गुजरना पड़ता हैं।

आइये विस्ताररूप में जानते हैं की पायलट बनने के लिए क्या करना आवश्यक हैं ।




योग्यताएं (Eligibility):

  • 12 वीं साइंस विषय के Math’s तथा Physics 50 प्रतिशत अंक साथ पास होना अनिवार्य हैं।
  • न्यूनतम आयु 18 वर्ष की होनी चाहिए ।
  • तथा Medical class 1 और Medical class 2 (DGCA Guideline) के तहत पास होना चाहिए ।

आवश्यक स्किल (Required Skills):

  • Good Communication Skill
  • Physical Fit
  • Problem Solving Skill
  • Good Eyesight
  • Good IQ

पायलट बनने के लिए ट्रेनिंग कोर्स (Training course for Pilot):


    • Student Pilot License – Student pilot license, Lerner के लिए हैं । अर्थात यह टैनिंग केवल 6 महीने के लिए ही होती हैं ।
    • Private Pilot License – इस license के लिए private jet उड़ाने की ट्रेनिंग 40 घंटे तक की होती हैं तथा यह ट्रेनिंग पुरे 4 महीने के लिए होता हैं ।
    • Commercial Pilot License– Commercial pilot बनने के लिए commercial license का होना आवश्यक हैं साथ ही साथ 5 तरह के परीक्षा पास करनी पड़ती हैं जैसे Technical, Radio Telephony, Regulations, Navigation तथा

    टॉप इंस्टिट्यूट पायलट ट्रेनिंग के लिए (Top Institute for Pilot):

    • Indira Gandhi Rashtriya Uran Akademi, Rae Bareli
    • Government Aviation Training Institute, Bhubaneswar
    • Government Flying Club, Lucknow
    • National Flying Training Institute, Gondia
    • Institute of Aviation and Aviation Safety
    • Rajiv Gandhi National Flight Training Institute

    पायलट सैलरी (Salary for Pilot)

    भारत में एक पायलट की सैलरी 3,00,000-8,00,000 तक होती हैं ।

    Interior Designer (इंटीरियर डिज़ाइनर):

    यह कोर्स भी Fashion Design की तरह ही काफी रोमांचक है तथा इसे करने के लिए creative thinking का होना आवश्यक हैं ।




    आइये अब जानते हैं Interior Designing क्या होता हैं ?

    साधारण भाषा में घर के साज सजावट को प्रोफ़ेशनल तरीके से करना ही Interior Designing कहलाता हैं ।

    यह कोर्स अभी काफी demand में हैं तथा इसमें जॉब opportunity भी काफी हैं ।

    इंटीरियर डिज़ाइनर के प्रकार (Types of Interior Designers):

    Corporate designers –इसमें Professional तरीके से corporate सेक्टर की सजावट करते हैं जैसे कोई ऑफिस ।

    Healthcare designers- Healthcare designers’ उसे कहते हैं जो सिर्फ healthcare centers के सजावट का कार्य करते हैं ।

    Kitchen and bath designers – इसमें designers kitchen तथा bath को professional तरीके से एक क्रिएटिव नया लुक देते हैं ।

    और भी कई अन्य प्रकार Interior designers के मौजूद हैं ।

    योग्यताएं (Eligibility):

    • किसी भी स्ट्रीम से पास 12 वीं के विद्यार्थी इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं ।
    • इस कोर्स के रेगुलर कोर्स (Regular course) में एडमिशन के लिए आपके 12 वीं के 50 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं ।

    आवश्यक स्किल (Required Skills):

    • Creativity
    • Interpersonal skills
    • Problem-solving skills
    • Visualization
    • Detail oriented

    इंटीरियर डिज़ाइनर के लिए बैचलर डिग्री (Bachelor degree for Interior Designing): 

    • Bachelor of Interior Design
    • Sc. (Interior Design)
    • A (Interior Design)

    इंटीरियर डिज़ाइनर के लिए टॉप कॉलेज (Top colleges for Interior Designing): 

    • National Institute of Design (NID) Location, Delhi
    • Sai School of Interior Design. Location, New Delhi
    • Sir JJ School of Art, Mumbai
    • Arch Academy of Design, Jaipur
    • IILM School of Design, Gurgaon
    • Vogue Institute of Fashion Technology

    इंटीरियर डिज़ाइनर कोर्स के लिए एंट्रेंस एग्जाम (Entrance exams for Interior Designing ): 

    NATA CEED NID तथा CEPT

    इंटीरियर डिज़ाइनर सैलरी (Expected salary for Interior Designer)

    किसी अच्छे इंस्टिट्यूट (Institute) से इस कोर्स को करने के बाद आपकी सैलरी शुरुवात में 40,000- 8,50,000 तक हो सकती हैं।

    इंटीरियर डिज़ाइनर जॉब देने वाली टॉप कंपनी ( Top recruiters in Interior Designing Industry ):

    • Homelane
    • Urban Ladder
    • Bonito Designs
    • Livspace
    • Inch

    Chartered Accountancy (चार्टेड एकाउंटेंसी ):

    जिन्हे टैक्सेशन (Taxation),Audit, Accounts बहुत ज्यादा पसंद हैं, वे इस कोर्स को करना पसंद करते हैं, तथा यह एक प्रोफ़ेशनल कोर्स हैं । यह एक long-duration कोर्स हैं।

    चार्टेड एकाउंटेंसी के एग्जाम ( Exams for Charted Accountancy):

    CPT (Common Proficiency Test)

    IPCC (Integrated Professional Competence Course)

    CA Final

    योग्यताएं (Eligibility):

    • एग्जाम के प्रकार अलग अलग हैं तो उसके अनुसार ही योग्यताये भी हैं जैसे CPT के लिए 12 पास आउट होना अनिवार्य हैं ।
    • IPCC के लिए ग्रेजुएशन के साथ-साथ 55% अंक का होना आवश्यक हैं ।
    • CA Final के लिए IPCC क्लियर होना अनिवार्य हैं तभी आप इस परीक्षा में बैठ सकते हैं ।

    आवश्यक स्किल (Required Skills):

    • Analytical
    • Communication skills
    • Problem-solving skills
    • Time management skills
    • Numeracy

    चार्टेड एकाउंटेंसी सैलरी (Chartered Accountancy salary):

    इस कोर्स को करने के बाद आपकी सैलरी शुरुवात में 8,00,000- 12,50,000 तक हो सकती हैं।

    चार्टेड एकाउंटेंसी जॉब देने वाली टॉप कंपनी (Top Recruiters for Chartered Accountant): 

    • Klynveld Peat Marwick Goerdele (KPMG)
    • Price Waterhouse Coopers (PWC)
    • Ernst & Young (E&Y)
    • Deloitte

    Law (लॉ ):

    Law एक फुल टाइम डिग्री कोर्स हैं, जिसे किसी भी स्ट्रीम से आये हुए स्टूडेंट अपने इंटरेस्ट के अनुसार कर सकते हैं साथ -ही -साथ इसमें 3 साल अथवा 5 साल का कोर्स भी होता हैं ।




    योग्यताएं (Eligibility):

    • किसी भी स्ट्रीम से पास 12 वीं के विद्यार्थी इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं ।
    • इस कोर्स के रेगुलर कोर्स (Regular course) में एडमिशन के लिए आपके 12 वीं के 50 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं ।

    आवश्यक स्किल (Required Skills):

    • Good Communication Skills
    • Good IQ
    • Presentable
    • Adaptability

    लॉ के लिए बैचलर डिग्री (Bachelor degree for Law): 

    • Bachelor of Laws (LL.B.) – 3 years.
    • Integrated undergraduate degrees – B.A. LL.B., B.Sc. LL.B., BBA LLB, and B.Com LL.B – 5 years.

    टॉप लॉ कॉलेज (Top Law colleges):

    • National Law school of India University, Bangalore
    • National Law University, New Delhi
    • NALSAR University of Law, Hyderabad
    • Jindal Global Law School, Sonipat
    • WB National University of Juridical Sciences, Kolkata

    Law के लिए एंट्रेंस एग्जाम (Entrance exams for Law ):

    CLAT, LSAT, AILET तथा SET

    Law के बाद जॉब देने वाली टॉप कंपनी ( Top recruiters for Law candidates):

    • Marchand Mangaldas
    • AZB & Partners
    • J Sagar Associates
    • Khaitan & Co
    • Luthra & Luthra
    • Trilegal
    • Desai & Diwani




    Management (मैनेजमेंट):

    12 वीं के बाद मैनेजमेंट की पढ़ाई एक अच्छा विकल्प हैं, अच्छे कॉलेज से मैनेजमेंट के बाद सैलरी भी अच्छी होती हैं तो यह भी करियर के लिए एक अच्छा चुनाव हैं ।

    योग्यताएं (Eligibility):

    • किसी भी स्ट्रीम से पास 12 वीं के विद्यार्थी इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं ।
    • इस कोर्स के रेगुलर कोर्स (Regular course) में एडमिशन के लिए आपके 12 वीं के 50 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं ।

    आवश्यक स्किल (Required Skills):

    • Good Communication Skills
    • Interpersonal Skills
    • Presentable
    • Management Skills
    • Organizer

    मैनेजमेंट के लिए बैचलर डिग्री (Bachelor degree for Management): 



    • BBA stands for Bachelor of Business Administration
    • BMS
    • Sc. in Hotel Management
    • BA Management courses
    • BBS (Bachelor of Business Studies)

    टॉप मैनेजमेंट कॉलेज (Top colleges for Management studies):

    • Jamia Millia Islamia University, Delhi
    • Xavier’s college, Mumbai
    • Narsee Monjee Institute of Management Studies, Mumbai
    • Christ University, Bangalore
    • Symbiosis University, Pune

    मैनेजमेंट के लिए एंट्रेंस एग्जाम (Entrance exams for Management):

    CAT, CMAT, MAT, XAT, MAHA CET, SNAP

    सैलरी (Expected salary in Management):




    अच्छे कॉलेज से इस कोर्स को करने के बाद आपकी सैलरी शुरुवात में 6,00,000 – 15,00,000 तक हो सकती हैं।

    मैनेजमेंट में जॉब देने वाली टॉप कंपनी (Top Recruiters for Management) :

    • McKinsey & Company, Inc.
    • Boston Consulting Group
    • Deloitte Consulting LLP
    • JP Morgan Chase & Co.
    • Goldman, Sachs & Co.
    • Deutsche Bank

    Software Engineer (सॉफ्टवेयर इंजीनियर):

    जिन्हें Programming करना पसंद हो, वे स्टूडेंट इस ऑप्शन के लिए जा सकते हैं,इस कोर्स मैं स्कोप (Scope) काफी अच्छा हैं जो 3-4 साल के लिए होता हैं।




    योग्यताएं (Eligibility):

    • किसी भी स्ट्रीम से पास 12 वीं के विद्यार्थी इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं ।
    • इस कोर्स के रेगुलर कोर्स (Regular course) में एडमिशन के लिए आपके साइंस स्ट्रीम से 12 वीं के 50 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं ।

    आवश्यक स्किल (Required Skills):

    • Good Communication Skills
    • Interpersonal Skills
    • Analytical Skill
    • Good IQ

    सॉफ्टवेयर इंजीनियर के लिए बैचलर डिग्री (Bachelor degree for Software Engineer): 

    • Tech/BE in Computer Science
    • IT in Computer Science
    • BCA (Bachelor in Computer Application)
    • SC (Bachelor in Science)

    सॉफ्टवेयर इंजीनियर टॉप  कॉलेज (Top colleges for Software Engineer): 

    • Indian Institute of Technology
    • Birla Institute of Technology
    • National Institute of Technology Tiruchirappalli
    • Delhi College of Engineering, Delhi





    सॉफ्टवेयर इंजीनियर के लिए एंट्रेंस एग्जाम (Entrance exams for Software Engineer): 

    JEE Main, JEE ADVANCE, BITSAT, VITEEE, SRMJEE

    सैलरी (Expected salary for a Software Engineer):

    अच्छे कॉलेज से इस कोर्स को करने के बाद आपकी सैलरी शुरुवात में 10,00,000 – 50,00,000 तक हो सकती हैं।

    सॉफ्टवेयर इंजीनियर की जॉब देने वाली टॉप कंपनी (Top Recruiters for Software Engineer):

    • Google
    • Yahoo
    • Hewlett-Packard
    • Infosys
    • Apple
    • Wipro

    Medical Science (मेडिकल साइंस ): 

    डॉक्टर बनना तो स्टूडेंट का सपना होता हैं, लेकिन उसे सच करने में उतनी ही ज्यादा मेहनत और लगन चाहिए यह एक लम्बे अवधि का कोर्स हैं जिसे मेहनती स्टूडेंट ही कर सकते हैं ।




    योग्यताएं (Eligibility):

    • किसी भी स्ट्रीम से पास 12 वीं के विद्यार्थी इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं ।
    • इस कोर्स के रेगुलर कोर्स (Regular course) में एडमिशन के लिए आपके साइंस स्ट्रीम से 12 वीं के 50 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं ।

    आवश्यक स्किल (Required Skills):

    • Mental Alertness at all the time
    • Ability to work with the team
    • Patience and Compassion
    • Hard Work
    • Technical Skill





    मेडिकल साइंस के लिए बैचलर डिग्री (Bachelor degree for Medical Science ): 

    • BDS – Bachelor of Dental Surgery
    • BAMS – Bachelor of Ayurvedic Medicine and Surgery
    • BUMS – Bachelor of Unani Medicine and Surgery
    • BHMS – Bachelor of Homeopathy Medicine and Surgery





    मेडिकल साइंस के लिए टॉप  कॉलेज (Top colleges for Medical Science): 

    • All India Institute of Medical Science
    • Christian Medical College
    • St Johns Medical College
    • King George’s Medical University

    मेडिकल साइंस के लिए एंट्रेंस एग्जाम (Entrance exams for Medical Science): 

    AIIMS, NEET UG

    सैलरी (Expected salary for Medical Science): 

    अच्छे कॉलेज से इस कोर्स को करने के बाद आपकी सैलरी शुरुवात में 5,00,000 – 20,00,000 तक हो सकती हैं।

    Navy (नेवी )

    ऐसे कोर्स का चुनाव सिर्फ जूनून रखने वाले स्टूडेंट ही कर सकते हैं ।12 वीं के बाद यह एक अच्छा करियर ऑप्शन हैं जिसके लिए 12 वीं में साइंस विषय का होना अनिवार्य हैं ।




    योग्यताएं (Eligibility):

    • 12 वीं साइंस विषय के Math’s तथा Physics 70 प्रतिशत अंक के साथ पास होना अनिवार्य हैं ।
    • न्यूनतम आयु 16 वर्ष की होनी चाहिए ।
    • Navy join करने के लिए Unmarried भी होना आवश्यक हैं ।

    आवश्यक स्किल (Required Skills):

    • Dedication
    • Physical Fitness
    • Leadership Skills
    • Communication Skill

    नेवी के लिए एंट्रेंस एग्जाम (Entrance exams for Navy): 

    NDA, UPSC

    Journalism And Mass Communication (जॉर्नीलिज़म और मास कम्युनिकेशन)

    मीडिया एक अच्छा करियर ऑप्शन हैं, जिन्हें आगे जाकर मीडिया में काम करना हैं वह इस कोर्स का चुनाव कर सकते हैं ।

    योग्यताएं (Eligibility):


      • 12 वीं पास विद्यार्थी इस कोर्स के लिए अप्लाई कर सकते हैं ।
      • इस कोर्स के रेगुलर कोर्स (Regular course) में एडमिशन के लिए आपके 12 वीं के 50 प्रतिशत अंक होने आवश्यक हैं ।

      जॉर्नीलिज़म और मास कम्युनिकेशन के लिए बैचलर कोर्स ( Bachelor degree for Journalism And Mass Communication):

      • A. with Journalism– 3 yrs.
      • Bachelor in Journalism(B.J) – 3 yrs.
      • Bachelor in Journalism and Mass Communication (BJMC) – 3 yrs.
      • A. with Mass Media – 3 yrs.
      • A. in script writing – 3 yrs.

      जॉर्नीलिज़म और मास कम्युनिकेशन के लिए के लिए टॉप कॉलेज (Top colleges for Journalism And Mass Communication):

      • Symbiosis Institute of Media & Communication, Pune
      • Christ University, Bangalore
      • Madras Christian College
      • Presidency College

      जॉर्नीलिज़म और मास कम्युनिकेशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम (Entrance exams for Journalism And Mass Communication):

      IIMC, MICA




      सैलरी (Expected salary) :

      अच्छे कॉलेज से इस कोर्स को करने के बाद आपकी सैलरी शुरुवात में 4,00,000 – 10,00,000 तक हो सकती हैं।

      जॉर्नीलिज़म और मास कम्युनिकेशन की जॉब देने वाली टॉप कंपनी (Top Recruiters for Journalism and Mass Communication) :

      • CNBC
      • Zee T.V Network
      • Hindustan Times Group of Publication
      • TV 18 Groups
      • BBC

      दोस्तों आज के इस पोस्ट के द्वारा हमने 12वीं के बाद टॉप 10 करियर ऑप्शन के बारे में जाना।

      उम्मीद करता हु की ये पोस्ट आपको पसंद आया होगा।

      अगर आपको किसी भी डिग्री या कोर्स के बारे में और ज्यादा जानकारी चाहिए या आपका इससे रिलेटेड कोई भी सवाल हो, तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

      Leave a Reply

      Your email address will not be published. Required fields are marked *