बिज़नेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा की पूरी जानकारी

दोस्तों क्या आप जानते है कि बिज़नेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा क्या होता है, ये डिप्लोमा कैसे और कहा से करें और डिप्लोमा करने के बाद कौन सा जॉब मिलेगा और सैलरी कितना होगा।

आइये आज के इस हिंदीपोस्ट में मैं आपको बिज़नेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा की पूरी जानकारी देता हु।

दोस्तों इससे पहले के कुछ आर्टिकल में मैंने आपको बताया कि :

इवेंट मैनेजमेंट डिप्लोमा कोर्स की पूरी जानकारी

होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स की पूरी जानकारी

कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा कोर्स फीस, इंस्टिट्यूट,और जॉब अवसर

इंटीरियर डिजाइनिंग में डिप्लोमा की पूरी जानकारी

वेबसाइट डिजाइनिंग में डिप्लोमा की पूरी जानकारी

बिज़नेस मैनेजमेंट क्या है:


किसी भी बिज़नेस की शुरुआत करने के बाद, बिज़नेस के आयोजन, नियोजन, सावधानी, अनुकूलता समस्या, नियंत्रण आदि गतिविधियों को मैनेज करने का मतलब होता है, बिज़नेस मैनेजमेंट।

बिज़नेस शुरू करने के बाद बिज़नेस से जुड़ी हर एक चीज ध्यान रखना बिज़नेस के मालिक के लिए असंभव होता है।

ऐसी परिस्थिति में उसे अपने बिज़नेस को संभालने तथा बढ़ावा देने के लिए विशिष्ट पद पर पेशेवरों की आवश्यकता होती है।

बिज़नेस मैनेजमेंट डिप्लोमा कोर्स का स्कोप:

(Scope of Business Management Diploma Course:)

बिज़नेस मैनेजमेंट कोर्स सर्टिफिकेट, डिप्लोमा, बैचलर डिग्री, मास्टर्स डिग्री, पी एच डी ऐसे विभिन्न स्तर पर उपलब्ध है।

बिजनेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स एक डिप्लोमा स्तर का कोर्स है, जिसकी अवधि 1 से 3 साल की होती है।

अब कितनी अवधि का डिप्लोमा कोर्स करना है, यह छात्र की पसंद पर निश्चित है, साथ ही कोर्स की फ़ीस भी।

बिज़नेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स छात्र को एक बिज़नेस को शुरू करने के साथ उसके नियोजन, नियंत्रण, वृद्धि, प्लानिंग आदि के लिए उपयुक्त प्रशिक्षण प्रदान करता है।
भारत की अर्थव्यवस्था में पिछले कुछ वर्षों में तेजी से सकारात्मक बदलाव आया है।

छोटे से बड़े उद्योग की संख्या और उद्योगों की वृद्धि भी तेजी से हो रही है। जिसका सीधा और अच्छा प्रभाव रोजगार पर हुआ है।

बिज़नेस मैनेजमेंट एक ऐसा क्षेत्र है, जहां पर प्रशिक्षण लेने के लिए इच्छुक छात्र अधिक है, साथ ही बिजनेस मैनेजमेंट पेशे वरों की मांग भी अधिक है।

आने वाले भविष्य में बढ़ रहा विकास और उद्योग बिज़नेस मैनेजमेंट पेशे वरों की मांग बढ़ा रहा है।

एम बी ए (MBA) और डिप्लोमा इन बिज़नेस मैनेजमेंट में क्या फर्क है:

एम बी ए का मतलब होता है, मास्टर्स इन बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन।

जिसमें Finance, Accounting, Marketing, Organizing जैसी प्रक्रियाओं को शामिल किया जाता है।

डिप्लोमा की तुलना में एम बी ए एक उच्च स्तर का कोर्स है, जहाँ पर बिज़नेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा एक प्राथमिक स्तर का कोर्स है।

बिज़नेस मैनेजमेंट और बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन में कोई बड़ा फर्क नहीं देखा जाता है, लेकिन फिर भी दोनों चीजें अपने आप मे काफी भिन्न है।

तुलना में बिज़नेस एडमिनिस्ट्रेशन, बिज़नेस मैनेजमेंट से काफी व्यापक है।

 

बिज़नेस मैनेजमेंट डिप्लोमा कोर्स की प्रवेश पात्रता:

(Entrance Eligibility for Business Management Diploma Course:)


बिजनेस मैनेजमेंट डिप्लोमा कोर्स के प्रवेश के लिए छात्र को 10 वी या 12 वी उत्तीर्ण होना अनिवार्य है।

जिसमें छात्र के 50% गुण होना आवश्यक है, साथ ही आरक्षित श्रेणी के छात्रों के 45% गुण होना आवश्यक है।

कुछ इंस्टिट्यूट में डिप्लोमा के लिए प्रवेश लेने से पहले प्रवेश परीक्षा देना अनिवार्य होता है।

छात्र को इंस्टिट्यूट में प्रवेश मिलने से पहले उसे पर्सनल इंटरव्यू, मेरिट लिस्ट का सामना करना पड़ता है।

छात्र के गुण, प्रवेश परीक्षा और इंटरव्यू के आधार पर ही इंस्टिट्यूट में प्रवेश हो सकता है।

बिज़नेस मैनेजमेंट डिप्लोमा में प्रवेश के लिए आवश्यक प्रवेश परीक्षाएं।
1. North Maharashtra University Entrance Exam
2. Bombay Academy of Management Studies
3. Shivaji University Entrance Exam
4. Mary’s Stella College Entrance Exam

बिज़नेस मैनेजमेंट डिप्लोमा कोर्स में सिखाए जाने वाले विषयों की सूची:

1. मैनेजमेंट थेरी एंड प्रक्टिस (Management theory and practice)
2. आर्गेनाइजेशनल बिहेवीयर (Organizational behavior)
3. बिज़नेस इकोनॉमिक्स (Business Economics)
4. कॉर्पोरेट सोशल रिस्पांसिबिलिटी (Corporate Social Responsibility)
5. इंफॉर्मेशन सिस्टम्स फ़ॉर मैनेजर (Information System for Manager)
6. बिज़नेस कम्युनिकेशन (Business Communication)
7. मार्केटिंग मैनेजमेंट (Marketing Management)
8. डाइरेक्ट एंड इनडाइरेक्ट टैक्सेशन (Direct and Indirect Taxation)
9. फाइनांशियल अकॉउंटिंग एंड एनालिस्ट (Financial Accounting and Analyst)
10. एसेंशियल ऑफ एच आर एम (Essential of HRM)
11. इंटरनेशनल बिज़नेस (International Business)


बिज़नेस मैनेजमेंट डिप्लोमा कोर्स के फायदे:


1. बिज़नेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा छात्र को इस क्षेत्र में आवश्यक और महत्वपूर्ण पदों पर कार्य करने के लिए प्रशिक्षण देता है।
2. निजी और सार्वजनिक स्तर पर उपलब्ध ऑर्गनाइजेशन में छात्र को जॉब के अवसर प्राप्त होते है।
3. बिज़नेस मैनेजमेंट के सिद्धांत और पहलू को छात्र को डिप्लोमा कोर्स में समझाए और सिखाए जाते है।
4. डिप्लोमा कोर्स पूरा करने के बाद भी छात्र नामी कंपनियों में जॉब के साथ अच्छी तनख्वाह प्राप्त कर सकता है।
5. बिज़नेस की वास्तविकता का एक अच्छा परिचय छात्र को कोर्स के दौरान मिलता है।
6. प्रभावी रूप से बिज़नेस को मैनेज करने में छात्र कुशल बन जाता है।


डिप्लोमा के बाद निम्नलिखित क्षेत्रों में जॉब मिल सकते है:


1. केमिकल इंडस्ट्री (Chemical Industry)
2. कॉलेज और यूनिवर्सिटी या इंस्टिट्यूट (College or University or Institute)
3. फैशन इंडस्ट्री (Fashion Industry)
4. ग्रोसरी मॉल (Grocery Mall)
5. हेल्थ इंडस्ट्री (Health Industry)
6. यूटिलिटीज इंडस्ट्री (Utility Industry)


निम्नलिखित नामी कंपनियां बिज़नेस मैनेजमेंट पेशे वरों की सबसे ज्यादा मांग करती है।

1. सपीएन्ट कारपोरेशन (Sapient Corporation)
2. स्नैपडील (Snapdeal)
3. पेपाल (PayPal)
4. विप्रो (Wipro)
5. रिलाइंस कम्युनिकेशन्स (Reliance Communications)
6. ऐमज़ॉन (Amazon)
7. टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस लिमिटेड (Tata Consultancy services limited)
8. फ्लिपकार्ट (Flipkart)
9. इंफोसिस लिमिटेड (Infosys limited)


बिज़नेस मैनेजमेंट डिप्लोमा करने पर कौन से जॉब उपलब्ध होते है-

1. बिजनेस एनालिस्ट (Business Analyst)
2. बिज़नेस कंसल्टेंट (Business Consultant)
3. बिज़नेस डेवलपमेंट मैनेजर (Business Development Manager)
4. बिज़नेस मैनेजमेंट एग्जीक्यूटिव (Business Management Executive)
5. बिज़नेस मैनेजमेंट प्रोफ़ेसर (Business Management Professor)
6. बिज़नेस मैनेजमेंट रिसर्चर (Business Management Researcher)
7. बिजनेस पर्फोमेंस मैनेजमेंट ट्रेनी (Business Performance Management Trainee)
8. फाइनेंस मैनेजर (Finance Manager)
9. ह्यूमन रिसोर्स मैनेजर (Human Resource Manager)
10. मैनेजमेंट अकाउंटेंट (Management Accountant)
11. मार्केटिंग मैनेजर (Marketing Manager)
12. प्रोडक्शन मैनेजर ( Production Manager)


जॉब प्रोफइल और उनकी तनख्वाह

बिज़नेस एनालिस्ट (Business Analyst):
बिज़नेस एनालिस्ट बिज़नेस का प्रचार करने के लिए, बिज़नेस मॉडल का आकलन करने के लिए, बिज़नेस प्रोसेस और सिस्टम का ध्यान रखने के लिए जिम्मेदार होता है।

इस जॉब की एक वर्ष की तनख्वाह 7 से 8 लाख रुपये होती है।

फाइनांस मैनेजर (Finance Manager):
किसी भी ऑर्गनाइजेशन के फाइनांशियल रिपोर्ट, डेवलपमेंट, स्टेटर्गिज़ और प्लान्स की जिम्मेदारी फाइनांस मैनेजर की होती है।

इस जॉब की एक साल की तनख्वाह 8 से 9 लाख रुपये होती है।

बिज़नेस मैनेजमेंट एग्जीक्यूटिव (Business management Executive)
व्यवसाय से जुड़े कर्मचारियों की गतिविधियों की देखरेख, प्रशिक्षण, किराया और नए कर्मचारियों की खोज आदि तथा नए ग्राहकों को बिज़नेस की ओर खींचने की जिम्मेदारी बिज़नेस मैनजेमेंट एग्जीक्यूटिव की होती है।

बिज़नेस मैनेजमेंट एग्जीक्यूटिव की एक साल की तनख्वाह 6 से 7 लाख रुपये होती है।

मार्केटिंग मैनेजर (Marketing Manager)
मौजूदा ग्राहक और नए ग्राहकों को बिज़नेस की ओर खींचने की तथा इसके अनुसार बिज़नेस प्लान्स बनाने की जिम्मेदारी मार्केटिंग मैनेजर की होती है।

मार्केटिंग मैनेजर की एक साल की तनख्वाह 7 से 8 लाख रुपये होती है।

प्रोडक्शन मैनेजर (Production Manager)
प्रोडक्शन मैनेजर बिज़नेस में रोजगार के मुद्दों और फाइनांस के आयोजन के लिए जिम्मेदार होता है।

किसी भी प्रोडक्ट की कीमत, प्लान्स आदि का ध्यान प्रोडक्शन मैनेजर को रखना पड़ता है।

इस जॉब की एक साल की तनख्वाह 8 से 9 लाख रुपये होती है।


बिज़नेस मैनेजमेंट डिप्लोमा कोर्स की फीस:


बिज़नेस मैनेजमेंट डिप्लोमा कोर्स की अवधि, छात्र की गुणवत्ता, आरक्षित श्रेणी आदि पर कोर्स कि फ़ीस निर्भर करती है। अलग-अलग इंस्टिट्यूट में फ़ीस अलग हो सकती है।

लेकिन फिर भी अनुमान से डिप्लोमा कोर्स की फ़ीस 50000 से 4 लाख रुपयों के करीब होती है।


निम्नलिखित इंस्टिट्यूट भारत के सबसे बेहतरीन बिज़नेस मैनेजमेंट इंस्टिट्यूट है। साथ ही उनकी बिज़नेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स की फ़ीस दी गई है।

1. Noida International University, Gautam Budhha Nagar
   Business Management diploma course fees – 1, 10,000 Rupees.


2. ITM business school, Mumbai
Business Management diploma course fees – 4, 65,000 Rupees.

3. Mahatma Gandhi University, Meghalaya
Business Management diploma course fees – 1, 50,000 Rupees.

4. WLCI School of fashion, Pune
Business Management diploma course fees – 4, 35,000 Rupees.

5. Symbiosis International University, Pune
Business Management diploma course fees – 2, 88,000 Rupees.

6. School of inspired leadership, Gurgaon
Business Management diploma course fees – 4, 50,000 Rupees.

7. GDM College, Harnaut
Business Management diploma course fees – 4, 50,000 Rupees.

8. Indian school of business management and administration, Hyderabad
Business Management diploma course fees – 50,000 Rupees.

9. Indian school of business management, Bangalore
Business Management diploma course fees – 45,000 Rupees.

10. EMPI Business school, New Delhi
Business Management diploma course fees – 7, 40,000 Rupees.

11. G D Goenka University, Gurgaon
Business Management diploma course fees – 2, 60,000 Rupees.

तो दोस्तों ये था कि आप किस तरह से बिज़नेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा कर सकते है।

उम्मीद करता हु कि आपको ये पोस्ट पसंद आया होगा। अगर आपको इससे रिलेटेड कोई भी सवाल पूछने हो, तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

इसके आलावा अगर आप कोई बिज़नेस मैनेजमेंट में डिप्लोमा करने के लिए अच्छा इंस्टिट्यूट जानते है, तो कमेंट बॉक्स में मुझे जरूर लिखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *