कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा कोर्स फीस, इंस्टिट्यूट,और जॉब अवसर




नमस्कार दोस्तों हिंदी पोस्ट में आपका फिर से एक बार स्वागत है। आज के इस पोस्ट में कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा कोर्स की फीस, इंस्टिट्यूट, जॉब अवसर, और कोर्स कम्पलीट करने के बाद सैलरी कितना मिल सकता है, इसके बारे पूरी जानकारी दूंगा।

जिससे आप आसनी से decide कर पाए कि आपको कौन सा कोर्स करना है और कौन से इंस्टिट्यूट से करना है।

कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा कोर्स:

होटल मैनेजमेंट में डिप्लोमा कोर्स की पूरी जानकारी

इवेंट मैनेजमेंट डिप्लोमा कोर्स की पूरी जानकारी


आज के डिजिटल युग में कंप्यूटर और टेक्नोलॉजीज का उपयोग मनुष्य के जीवन में अनन्य साधारण बन चुका है।

कंप्यूटर एक शक्तिशाली उपकरण है, जिसका अच्छी तरह से उपयोग करने के लिए, काफी कौशल की आवश्यकता होती है।




कंप्यूटर साइंस एक ऐसा क्षेत्र माना जाता है, जहाँ पर प्रोग्रामर को सॉफ्टवेयर बनाने के साथ-साथ, सॉफ्टवेयर को तेज, कुशल, विश्वसनीय, सुरक्षित, प्रयोग करने योग्य, बुद्धिमान बनाने का प्रशिक्षण देता है।

कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा और डिग्री इन दोनों स्तर पर प्रशिक्षण लिया जा सकता है।

कंप्यूटर साइंस डिप्लोमा कोर्स की अवधि 3 साल होती है।

कोर्स के लिए 10 वी या फिर 12 वी के बाद प्रवेश लिया जा सकता है।


कंप्यूटर साइंस डिप्लोमा करने के लिए आवश्यक गुणवत्ता: 


10 वी और 12 वी में छात्र के कम से कम 55% गुण अनिवार्य है, साथ ही OBC, SC, ST उम्मीदवारों के लिए 45% गुण अनिवार्य है।




छात्र के विज्ञान, गणित और अंग्रेजी विषय के गुणों पर ज्यादा ध्यान दिया जाता है।

कुछ इंस्टिट्यूट में प्रवेश लेते समय प्रवेश परीक्षाओं के गुणों पर भी ध्यान दिया जाता है।


कंप्यूटर साइंस प्रवेश परीक्षाओं के नाम :

  1. All India Common Entrance Test
  2. IIT Joint Examination
  3. Jawaharlal Nehru University Entrance Exam
  4.  Uttar Pradesh State Entrance Exam
  5. MIT
  6.  DCE CEE
  7.  NIT
  8. BIHER
  9.  BISAT


कंप्यूटर साइंस डिप्लोमा कोर्स में सिखाए जाने वाले विषयों की सूची:


डिप्लोमा कुल मिलाकर तीन वर्ष की अवधि का होता है, जिसका विभाजन 6 सेमिस्टर में किया जाता है।




इन परीक्षाओं में छात्र को कंप्यूटर की सिस्टम से लेकर प्रोग्रामिंग तक हर एक चीज का उत्तम प्रशिक्षण दिया जाता है।

साथ ही Engineering Pictures, Chemistry, Physics, Maths जैसे विषयों पर भी लक्ष्य केंद्रित किया जाता है।

Semester 1:

  1. Communication Skills Part 1
  2. Value and Ethics in Technical Education
  3. Engineering Mathematics 1
  4. Applied Physics
  5. Applied Chemistry and
  6. Computer Fundamentals and Applications

Semester 2:

  1. Communication Skills Part 2
  2. Engineering Drawing
  3. Engineering Mathematics 2
  4. Fundamentals of Electrical and Electronics
  5. Computer Center Management and Programming


Semester 3:

  1. Engineering Economics
  2. Electronic Workshops
  3. Operating Systems
  4. Network Essentials and Programming in C Plus Plus (C ++)

Semester 4:

  1. Marketing Management
  2. Computer Architecture
  3. Database Management System
  4. Linux OS, Multimedia Technology & Applications
  5. Visual Basic Programming


Semester 5:

  1. Software Engineering
  2. Programming
  3. Client-Server Applications
  4. System Software
  5.  Web Page Design


Semester 6:

  1. Entrepreneurship Development
  2. Project
  3. Networking Technology
  4. Computer Networks
  5. Network Installation & Management
  6. Wireless & Mobile Communication

साथ ही 6 हफ़्तों की इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग भी दी जाती है।

इन विषयों को जानने के बाद आप समझ गए होंगे कि, तीन साल के इस डिप्लोमा कोर्स में छात्र को कंप्यूटर साइंस में प्रशिक्षित(trained) किया जाता है।


कंप्यूटर साइंस में स्कोप:


कंप्यूटर प्रोग्राम मनुष्य के जीवन के हर एक पहलू के साथ जुड़ा हुआ है।

कंप्यूटर साइंस द्वारा विकसित किए गए नए डिज़ाइन, सिद्धांत, विकास के लिए आवश्यक सॉफ्टवेयर और हार्डवेयर, जिनका उपयोग हमारे रोजाना जीवन में महत्वपूर्ण साबित होता है।

कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र में वैज्ञानिकों का वेतन, उनकी बढ़ती मांग दर्शाता है।

कंप्यूटर साइंस के छात्र कोर्स पूरा करने के बाद चार से छह महीने के भीतर ही, अच्छे पद पर एक अच्छे वेतन के साथ अपने कार्य की शुरुआत कर सकते है।


आज के डिजिटल युग में शायद ही कोई ऐसा क्षेत्र हो, जहाँ पर कंप्यूटर की आवश्यकता नहीं है।

कंप्यूटर द्वारा विज्ञान, स्वास्थ्य ऐसे अन्य क्षेत्रों में हर मुमकिन समस्या का समाधान किया जाता है। और इसके लिए कंप्यूटर साइंस का योग्य ज्ञान प्राप्त व्यक्ति की आवश्यकता होती है।

विकास, आधुनिकता, टेक्नोलॉजी में प्रतिदिन नई खोज, कंप्यूटर और कंप्यूटर वैज्ञानिकों की जरूरत को बढ़ावा दे रहा है।

कंप्यूटर साइंस डिप्लोमा के बाद निम्नलिखित क्षेत्रों में जॉब प्राप्त हो सकते है:

1. IT
2. Multimedia
3. Embedded Systems
4. Database Management
5. Telecommunication
6. Gaming
7. Computer Hardware and Software Implementation and Maintenance
8. Software Design
9. System Testing
10. Graphics Animation
11. Programming
12. Web Designing


कंप्यूटर साइंस विशेषज्ञ की जिम्मेदारियां :


1. आधुनिक इंजीनियरिंग उपकरणों का प्रभावी उपयोग करना।
2. सॉफ्टवेयर उपकरण को संभालना।
3. इंजीनियरिंग के लिए लाभकारी तकनीकों का डिज़ाइन करना।
4. विभिन्न तकनीकों और सॉफ्टवेयर अनुप्रयोगों के साथ काम करना।
5. कंप्यूटर सॉफ्टवेयर सिस्टम को बनाए रखना और विकसित करना।
6. प्रासंगिक परियोजनाओं का प्रबंधन।


कंप्यूटर साइंस डिप्लोमा के बाद जॉब के लिए बेहतरीन कंपनियां:


कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा कोर्स के बाद विभिन्न क्षेत्र में अलग-अलग पदों पर जॉब प्राप्त किया जा सकता है।

कुछ खास नामांकित कंपनियों के नाम निम्नलिखित किए जा रहे है, जहाँ पर जॉब प्राप्त होने पर छात्र का भविष्य उज्ज्वल हो सकता है।

और इन कंपनियों में कंप्यूटर साइंस पेशेवरों(Computer science professionals) की मांग भी ज्यादा होती है।


1. Microsoft
2. Google
3. Yahoo
4. Amazon
5. Facebook
6. Oracle
7. Infosys
8. Dall
9. HP
10. Wipro
11. Cisco
12. Intel
13. adobe
14. Global Logic
15. HCL


कंप्यूटर साइंस डिप्लोमा कोर्स के बाद जॉब और सैलरी:



कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा पूरा करने के बाद छात्र को अलग-अलग पद पर जॉब प्राप्त हो सकते है।




जिनमें Assistant Manager, Project Assistant, Associate Software Engineer, Senior Technical Assistant, Member Technical Staff, Design Engineer, Professor, Technical Writer, Computer Operator ऐसे अनेक पदों का समावेश है।

सॉफ्टवेयर डेवलपर्स (Software developers):


सॉफ्टवेयर डेवलपर्स एक ऐसे विशेषज्ञ होते है, जो सॉफ्टवेयर बनाकर उसकी प्रक्रिया की विशेषताओं को संभालते है।

सॉफ्टवेयर डेवलपर्स की एक वर्ष की तनख्वाह 4 लाख रुपये इतनी होती है।

प्रोफ़ेसर(Professor):





छात्रों को माध्यमिक स्तर पर सिखाने का कार्य प्रोफ़ेसर करते है।

डिप्लोमा या डिग्री स्तर पर भी प्रोफेसर बनने के अवसर प्राप्त होते है, जिसकी एक वर्ष की तनख्वाह 10 लाख रुपये इतनी होती है।


कंप्यूटर सिस्टम एनालिस्ट(Computer system analyst):


कंप्यूटर से जुड़े वर्तमान स्तिथि में उपस्थित मुद्दों पर गौर करने के साथ, ऐसे मुद्दों के समाधान की योजना बनाने का कार्य कंप्यूटर सिस्टम एनालिस्ट करते है।

इस पद की वार्षिक तनख्वाह 6 लाख रुपये इतनी होती है।


सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर(System administrator):


कंप्यूटर सिस्टम को आधुनिकता के साथ बदलते रहना, सिस्टम को स्थापित करना, डिज़ाइन बनाना और उसका समर्थन करने का कार्य सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर द्वारा किया जाता है।

इसकी वार्षिक तनख्वाह 7 लाख रुपये इतनी होती है।

आपके पद, कार्य, कुशलता पर आपकी तनख्वाह निर्भर होती है।

लेकिन कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा पूरा करने के बाद छात्र को शुरुआती दिनों में एक वर्ष की तनख्वाह 3 लाख से 20 लाख तक प्राप्त हो सकती है।

कंप्यूटर साइंस डिप्लोमा कोर्स की फीस

कंप्यूटर साइंस में डिप्लोमा करने की एक वर्ष की फ़ीस 10000 से 5 लाख हो सकती है।

विभिन्न इंस्टिट्यूट में फ़ीस अलग होती है, साथ ही छात्र की गुणवत्ता पर भी यह निश्चित होती है।




निम्नलिखित इंस्टिट्यूट्स भारत में कंप्यूटर साइंस डिप्लोमा के लिए सबसे बेहतरीन इंस्टिट्यूट्स मानी जाती है।

जिनकी कंप्यूटर साइंस डिप्लोमा की एक वर्ष की फ़ीस साथ दी गई है।

1. Lovely Professional University, Jalandhar
One year fee – Rs 1,06,000.

2. DPG Institute of Technology and Management, Gurgaon
One year fee – Rs 1,25,000.

3. APJ University, Gurgaon
One year fee – Rs 1,65,000.

4. RMIT University, Punjab
One year fee – Rs 1,20,000.

5. Rai University, Ahmedabad
One year fee – Rs 1,20,000.

6. Tulaj Institute, Dehradun
One year fee – Rs 1,40,000.

7. Dr. D. Y. Patil Polytechnic of Engineering, Pune
One year fee – Rs 1,43,000.

8. Suresh Gyan Vihar University, Jaipur
One year fee – Rs 1,05,000.

9. Rawal Institute of Engineering, Faridabad
One year fee – Rs 1,35,000.

10. Ganga Technical Campus, Delhi
One year fee – Rs 66,000.

11. SP Memorial Institute of Technology, Allahabad
One year fee – Rs 1,03,000.

12. Quantum School of Technology, Roorkee
One year fee – Rs 1,49,000.

13. Veeramata Jijabai Technological Institute, Mumbai
One year fee – Rs 38,000.

14. GD Goinka University, Gurgaon
One year fee – Rs 1,50,000.

15. Amity University, Noida
One year fee – Rs 2,00,000.

 



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *