नए वर्ष नए सफर एक नई शुरुआत: संकल्प

नए सफर एक नई शुरुआत: संकल्प शीर्षक “नए सफर की नयी शुरुआत ” से कुछ नया पता चलता हैं । मैं आने वाले नए साल की बात रहा हूँ | सिर्फ मैं ही नहीं पूरा देश आने वाले नए साल को celebrate करने के लिए उत्सुक हैं | पुरे देश में New year को मानने के लिए लोग तरह- तरह कि तैयारियों में जुटे हुए हैं | कुछ अच्छा कुछ नया करने कि भावना सबके अंदर जागी हुयी हैं | आप सभी को हिंदी पोस्ट की तरफ से नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाये।

“नया साल नयी सोच सकरात्मक विचार”

हम New Year Celebrate जरूर करते हैं पर क्या हम जानते हैं कि आखिर New year क्यों मनाया जाता हैं | आखिर कब से इसकी शुरुआत हुई |

तो आईये जानते हैं कि नए साल को Celebrate करने कि प्रक्रिया आखिर कब से चल रही हैं और कैसे इसे देश के सभी अलग-अलग भागो में अलग -अलग तरीके से इसे  मनाया जाता हैं।

  • आज से 2000 B.C पहले मेसोपोटामिया (Mesopotamia ) मे सबसे पहले New Year Celebrate  किया गया था।
  • Gregorian Calendar के अनुसार साल को शुरुआत करने कि तिथि 1st January को Roman Catholic Church द्वारा चुना गया | (713 BCE) Roman Calendar तथा Julian Calendar के अनुसार भी New Year 1st January को ही मनाया जाता हैं।
  • अंग्रेजी कैलेंडर के अनुसार पुरे देश में लोग New Year, 1st January को एक साथ Celebrate करते हैं | लेकिन पुरे देश में Culture विभिन्न होने के कारण अलग -अलग दिन में New Year को मनाया जाता हैं। जैसे मैं हमारे देश भारत के अलग अलग जगहों (राज्यों) पर मानाने जाने वाले New Year का उदाहरण दे रहा हूँ :-
New Year India
Ugadi Andhra PradeshTelanganaKarnataka
Gudhi Padwa MaharashtraGoaKonkan
Cheiraoba[2] Manipur
Navreh Kashmir
Navratra Jammu
Cheti Chand Sindh
Vaisakhi North and Central India
Rongali Bihu Assam
Chithirai Vishu Tamil Nadu
Vishu Kerala
Bishuva Sankranti Odisha
Poila Boishakh Bengal
Bestu Varas Gujarat
Islamic New Year Muslims
Pateti Parsis
Nowruz Zoroastrians

आईए जानते हैं लोग कैसे इसे Celebrate करते हैं ? साल का पहला दिन ,सभी कहते हैं शुरुआत अच्छा हो इसके लिए लोग मंदिरो, चर्च ,गुरुद्वारा तथा मस्जिद जाके सबसे पहले अपने-अपने भगवान को याद करते हैं ताकि आने वाले दिन अच्छे  हो।

बाहर घूमना मौज मस्ती करना लोग उस दिन ज्यादा पसंद करते हैं। 31st December कि रात कई स्थानों पर बड़े-बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया जाता हैं। और 12 बजते ही लोग एक दूसरे को New Year कि शुभकामनाये देते हैं।

तरह-तरह के पार्टियों,नाच-गान और स्वादिष्ट भोजन के साथ-साथ आतिशबाजियो जैसे कार्यक्रम का आयोजन करके लोग नव वर्ष का स्वागत बड़े हर्ष के साथ धूम-धाम से करते हैं।

नव वर्ष को लेकर बच्चो मे खास करके बहुत उत्साह देखा जाता है,वे चॉक्लेट ,गिफ्ट्स तथा तरह- तरह के मिठियो के साथ उत्साह पूर्ण New Year मानते है।

भारत के Metros cities जैसे दिल्ली ,चेन्नई, मुंबई, कोलकाता तथा पुरे विश्व में ३१ December को लाइव कंसर्ट्स (Live Concerts) होते है। जिसमें फ़िल्मी जगत के सितारों को बुलाया जाता है। इससे लोग मनोरंजन का आनंद उठाते है, और कुछ लोग इसे घर पर ही अपने परिवार के साथ देख कर खुश रहते है ।

वैसे तो नया साल 1 January को ही मनाई जाती है लेकिन धार्मिक तौर पर इसे 1 मार्च को मनाया जाता है। नए वर्ष को मनाने के लिए भारत में गोवा जैसे स्थान पर पर्यटको का जमावड़ा रहता है तथा कुछ भारत के लोग भारत से बहार विदेश जाकर नया साल मानना पसंद करते है।

विभिन्न तरह के शौक के अनुसार सब अपने नए साल को अच्छा और सुन्दर बनाने की कोशिश करते है। और कामना करते है की इसी प्रकार पूरा साल ही सुखमय हो।

भारत में कैसे न्यू ईयर लोग मानते है ये तो हमने देख लिया लेकिन अगर हम विदेश की बात करे तो वहाँ २५ दिसंबर से ही पार्टियों की शुरुवात हो जाती है। और जश्न पुरे अगले 1 महीने तक चलता रहता है।

विदेशो के कुछ स्थान जैसे ऑस्ट्रलिया ,कनाडा,नार्वे,अमेरिका,सिंगापुर में लोग अपना नया साल मानना पसन्द करते है। विदेश के कुछ मशहूर जगहो में आतिशबाजियो के साथ New Year बड़े हर्ष और उल्लास के साथ मनाया जाता है।

जाड़ा का मौसम और नया साल लोगो को कुछ ज्यादा ही आकर्षित करती है।  विदेशो में क्योकि ठण्ड में बर्फ होने के कारन लोग कुछ ज्यादा ही मज़ा लेते है। ऐक्टिविटी जैसे स्कीइंग, स्नोबॉल फाइट, स्नो ट्यूबिंग और स्नोमोबाइल सफारी का भरपूर आनंद उठाते है ।

चूकि नया साल नयी उम्मीदे तथा नया लछ्य, कुछ नया करने कि भावना। बहुतो के लिए पुराना  साल अच्छा होता हैं और बहुतो के लिए ख़राब पर अच्छे को और अच्छा बनना तथा पुरानी गलतियों से  सीख लेना। और उस सीख के साथ नयी साल कि शुरुआत करना एक अच्छी शुरुआत होती हैं | मन में विभिन संकल्पो के साथ आगे बढ़ना और आने वाले दिनों को सफल बनाने का प्रयास करना |

बहुत से लोग कुछ नए संकल्प(Resolution)बनाते हैं और उस संकल्प के अनुसार अपने जीवन को एक नई दिशा देने कि कोशिश करते हैं , और अपनी दिनचर्या भी उसी के अनुसार सेट करते हैं।

पर कुछ आदते मनुष्य की  ऐसी होनी चाहिए जो उसे विकास और तरक्की की ओर ले जाये, कुछ संकल्प जो एक अच्छी जिंदिगी के लिए सभी को जरुरी है तो आइये जानते है कुछ बातें –

  • सकरात्मक (Positive) विचार
  • मुश्किल परिस्थति में भी हमेशा खुश रहना
  • स्वास्थ्य (Health) को अच्छा रखना
  • उद्देश्य (Aim) के साथ चलना
  • धैर्य न खोना
  • परिश्रमी बनना

आशा करता हूँ आप सभी अपने संकल्पो के साथ आने वाले नव वर्ष को अनोखा बनाने के लिए अभी से तैयारियों मे जुट गए होंगे | एक नया संकल्प एक नया लछ्य और नई उम्मीदों के साथ |

  पिछले कई साल से हम नए साल को मानते आये है लेकिन इस लेखन से हमने आज ये जाना की आखिर नए साल की शुरुवात कैसे और क्यों हुई ? क्यों हम इसे 1st January को ही मानते है ? इन सभी बातो का उत्तर आपको मेरे लेखन से अवश्य ही मिल गया होगा। और साथ ही साथ ये भी जाना की इसे लोग कैसे इसे देश और विदेश में जाकर मानते है। मैंने काफी कुछ आपको न्यू ईयर के बारे में अपने लेख से बता दिया और अब अंत में आप सभी को फिर से मेरी तरफ से आने वाले नव वर्ष की हार्दिक शुभकामनाये।

मेरे इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक भेजने के लिए शेयर करना न भूलें, धन्यवाद।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *