जानिए UPI क्या है, और UPI कैसे काम करता है




जानिए UPI क्या है, और ये कैसे काम करता है, और आप UPI का इस्तेमाल कैसे कर सकते है।  

UPI क्या है (What is UPI in Hindi):

यूनाइटेड पेमेंट इंटरफेस (U.P.I.) यह प्रणाली अलग-अलग बँक खातों को एक मोबाइल एप्लिकेशन से जोडती है जिससे विविध  बैंकिंग सुविधाओं, सीमलेस फंड रूटिंग और मर्चेंट भुगतान को एक ही जगह से किया जा सकता है। इसका उपयोग ” समकक्ष व्यक्तियों की  अंतर्गत “आवश्यकता और सुविधा के अनुसार निर्धारन  और भुगतान के लिये भी किया जाता है। 



युनायटेड पेमेंट इंटरफेस ( United Payment Interface) व्यवस्था का प्रायोगिक प्रकल्प के रूप मे ( As an experimental project) उदघाटन NPCI द्वारा डॉक्टर रघुराम राजन, RBI  Governor के समक्ष 11 एप्रिल, २०16 को  मुंबई मे हुआ। जिसमे २१ बँको ने  एक साथ शुरु  किया गया। २5अगस्त, २०16 से  बँको ने उनका U.P.I. आधारित मोबाइल ऐप  Google Play Store पर अपलोड करना शुरू किया|

UPI से बैंकों के लिए लाभ:




  • एक क्लिक एवं  दो फैक्टर प्रमाणीकरण
  • लेनदेन के कार्य लिए यूनिवर्सल आवेदन
  • मौजूदा बुनियादी ढांचे का लाभ
  • सुरक्षित, संरक्षित और नाविनयपूर्ण
  • भुगतान आधार एकल / विशेष पहचानकर्ता
  • सहज-सुलभ एवं  व्यापार सक्षम लेनदेन

UPI से ग्राहकों के लिए लाभ:




  • २४ घंटे सुविधा
  • एकल आवेदन द्वारा विभिन्न बैंक खातों का ब्यौरा
  • वर्चुअल आईडी ( Virtual ID) का उपयोग अधिक सुरक्षित है, कोई क्रेडेंशियल शेयरिंग नहीं।
  •  एकल क्लिक प्रमाणीकरण(Single click authentication)
  • किसी भी शिकायत को मोबाइल अप्स के द्वारा सीधे दर्ज कर सकते है।

UPI से व्यापारियों के लिए लाभ:




  •  एकल पहचानकर्ता द्वारा ग्राहकों से अनिर्बंध फंड संग्रह(Unbranched fund collection).
  •  वर्चुअल एड्रेस को स्टोर करने का कोई खतरा नहीं है। जैसे की क्रेडिट या डेबिट कार्ड में हो सकता है
  •  उन ग्राहकों को टैप करें जिनके पास क्रेडिट / डेबिट कार्ड नहीं हैं।
  • ई कॉमर्स लेन देन के लिए उपयुक्त
  •  कॅश ऑन डिलीवरी की समस्या हल करता है।
  •  इन-ऐप भुगतान (In App Payment)

UPI की कुछ अनोखी बातें:




  • यह प्रणाली 24 घंटो और 365 दिन, मतलब पुरे साल काम करती है ।
  • मोबाइल डिवाइस के माध्यम से तत्काल धन हस्तांतरण(Instant money transfer)।
  •  एक ग्राहक के अलग-अलग बैंक खातों को यह जोड़ने वाली यह एकल मोबाइल एप्लिकेशन(Single mobile application)।
  •  लेवल का संरक्षण प्रमाणीकरण(Level protection authentication) – ग्राहकों को सबसे सुचारु एवं मजबूत सुविधा प्रदान करता है।
  • ग्राहक के खातों मे आदान-प्रदान करने के लिए यह एक वर्चुअल पता तैयार करता है जिससे  कार्ड नंबर, खाता संख्या, आईएफएससी (IFSC) इत्यादि जैसे विवरण बार -बार दर्ज करने की आवश्यकता नहीं होती है।
  •  मित्रों के साथ बिल शेयरिंग।
  • कॅश ऑन डिलीवरी के सरदर्द का सबसे सटीक जवाब, एटीएम के बार-बार उपयोग से बचाव एवम सटीक राशि प्रदान करना।
  • एक ही ऍप से व्यापारी भुगतान तथा इन-ऐप भुगतान(Merchant Payments and In-App Payments)।
  • उपयोगिता बिल भुगतान, काउंटर भुगतान तथा  बारकोड (स्कैन और पेमेंट ) आधारित भुगतान।
  • दान, संग्रह, सुचारु स्वरुप से वितरण (Donation, collection, distribution)
  •  किसी भी शिकायत को मोबाइल अप्स के द्वारा सीधे दर्ज कर सकते है।

UPI कैसे काम करता है:

UPI में रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया

  • रजिस्ट्रेशन के लिए कार्य करने की  निन्नलिखित प्रक्रिया है :
  • Google play store/Apple app store स्टोर / बैंक वेबसाइट से UPI एप्लिकेशन डाउनलोड करें।
  •  उपयोगकर्ता नाम (Username), वर्चुअल आईडी (Virtual ID), पासवर्ड इत्यादि जैसे विवरण दर्ज करके अपनी प्रोफ़ाइल बनाइये।
  • खाता जोड़ें / लिंक / प्रबंधित करें खाता (Manage account)” विकल्प पर जाएं  और वर्चुअल आईडी के साथ बैंक और खाता संख्या को लिंक करें।

UPI पिन तैयार करना :

  •  उपयोगकर्ता उस बैंक खाते का चयन करें जिसमे से वह लेन-देन शुरू करना चाहता है।
  • उपयोगकर्ता दिए गए विकल्पोमे से  में से एक क्लिक करता है।
  •  उपयोगकर्ता को उसके रजिस्टर मोबाइल नंबर जारी कर्ता बैंक से ओटीपी (OTP) प्राप्त होता है।
  •  उपयोगकर्ता अब डेबिट कार्ड नंबर और समाप्ति तिथि के अंतिम 6 अंकों को प्रविष्ट करता है।
  •  उपयोगकर्ता ओटीपी का दिए गया रिक्त स्थानों पर प्रवेश करता है। और अपने पसंदीदा संख्यात्मक UPI पिन  (जिसे वह सेट करना चाहते हैं) से  प्रवेश करता है और सबमिट बटन पर क्लिक करता है।
  •  सबमिट करने के बाद, ग्राहक नोटिफिकेशन प्राप्त करता है (सफल या विफल)।
  •  उपयोगकर्ता अपने पुराने यूपीआई पिन में पसंदीदा यूपीआई पिन जिसे वह सेट करना चाहते हैं, तो आसानी से सेट कर सकते है।  
  •  सबमिट करने के बाद, ग्राहक नोटीकेशन प्राप्त करता है (सफल या विफल)।

UPI App से लेन देन करना:

 वर्चुअल एड्रेस का उपयोग करके पैसा भेजना: 

  •  सबसे पहले उपयोगकर्ता यू पीआई आवेदन में Login करता है।
  •  Login के बाद, उपयोगकर्ता पैसा / भुगतान भेजने का विकल्प चुनता है।
  •  उपयोगकर्ता लाभार्थी / भुगतानकर्ता के वर्चुअल आईडी में प्रवेश करता है और अपने खाते को डेबिट करने का चयन करता है।
  •  भुगतान के विवरण और क्लिक की समीक्षा करने के लिए उपयोगकर्ता को पुष्टिकरण (Confirmation) स्क्रीन मिलती है।
  •  उपयोगकर्ता अब अपने यूपीआई पिन का  प्रवेश करता है।
  • उपयोगकर्ता को सफल या विफलता का  संदेश जाता है।

पैसे का अनुरोध:

  •  उपयोगकर्ता अपने बैंक के यूपीआई आवेदन में लॉग इन करता है।
  •  सफल लॉगिन के बाद, उपयोगकर्ता धन एकत्रित  करने का विकल्प चुनता है (भुगतान के लिए अनुरोध)
  • प्रयोक्ता प्रेषक (User sender) / भुगतानकर्ता(Payer) वर्चुअल आईडी, राशि और खाते में जमा होने के लिए प्रवेश करता है।
  •  पुष्टिकरण (acceptance) पर भुगतान विवरण (Payment details) और क्लिक की समीक्षा (Click review) करने के लिए उपयोगकर्ता को पुष्टिकरण स्क्रीन मिलती है।
  •  अनुरोधकर्ता पैसे के लिए भुगतानकर्ता को अपने मोबाइल पर नोटिफिकेशन मिलती है।
  •  भुगतानकर्ता नोटिफिकेशन पर क्लिक करता है। और अपने बैंक यूपीआई ऐप ( UPI App) खोलता है। जहां वह भुगतान अनुरोध की समीक्षा करता है।
  •  भुगतानकर्ता तब स्वीकार(accept) या अस्वीकार(reject) पर क्लिक करने का फैसला करता है।
  •  स्वीकृति भुगतान(payment acceptance)  के मामले में, भुगतानकर्ता यूपीआई पिन को लेन देन को अधिकृत(authorized) करने के लिए प्रवेश करता है।
  •  प्राप्तकर्ता को बैंक से अपने बैंक खाते के क्रेडिट के लिए रजिस्टर मोबाइल नंबर पर नोटिफिकेशन और SMS प्राप्त होता है।

यूपीआई सक्षम बैंकों(UPI enabled banks )की सूची :

  • 1. एयरटेल भुगतान बैंक
  • 2.  इलाहाबाद बैंक
  • 3.  आंध्र बैंक
  • 4 . एक्सिस बैंक
  • 5.  बैंक ऑफ बड़ौदा
  • 6.  बैंक ऑफ इंडिया
  • 7.  बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • 8 . कैनरा बैंक
  • 9 . कैथोलिक सीरियाई बैंक
  • 10.  सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया
  • 11 . सिटी यूनियन बैंक
  • 12.  डीबीएस डिजी बैंक
  • 13. डीसीबी बैंक
  • 14.  देना बैंक
  • 15.  इक्विटास लघु  वित्त बैंक
  • 16. फेडरल बैंक
  • 17. एचडीएफसी
  • 18.  एचएसबीसी
  • 19.  आईसीआईसीआई बैंक
  • 20.  आईडीबीआई बैंक
  • 21.  आईडीएफसी
  • 22.  भारतीय बैंक
  • 23.  इंडियन ओवरसीज बैंक
  • 24.  इंडसइंड बैंक
  • 25 . जम्मू-कश्मीर बैंक
  • 26.  कर्नाटक बैंक
  • 27.  करूर वैश्य बैंक
  • 28.  कोटक महिंद्रा बैंक
  • 29.  ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स
  • 30.  पेटीएम भुगतान बैंक
  • 31.  पंजाब और सिंध बैंक
  • 32 . पंजाब नेशनल बैंक
  • 33.  साउथ इंडियन  बैंक
  • 34. स्टैण्डर्ड चार्टर्ड
  • 35.  स्टेट बैंक ऑफ इंडिया
  • 36.  सिंडिकेट बैंक
  • 37. लक्ष्मी विलास बैंक लिमिटेड
  • 38.  रत्नाकर बैंक लिमिटेड
  • 39.  ठाणे जनता सहकारी बैंक लिमिटेड (टीजेएसबी)
  • 40 . यूसीओ बैंक
  • 41.  यूनियन बैंक ऑफ इंडिया
  • 42.  यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया
  • 43.  विजया बैंक
  • 44. यस बैंक
  • 45.  निगम बैंक
  • 46.  जी पी पारसिक बैंक
  • 47.  वसई विकास सहकारी बैंक लिमिटेड
  • 48.  ठाणे भारत सहकारी बैंक
  • 49.  अपना सहकारी बैंक
  • 50 . राजकोट नागरी सहकारी बैंक लिमिटेड
  • 51.  पंजाब और महाराष्ट्र कं बैंक
  • 52.  मेहसाणा शहरी सहकारी बैंक
  • 53 . सारस्वत सहकारी बैंक
  • 54.  सिटीबैंक रिटेल
  • 55. कल्याण जनता सहकारी बैंक
  • 56.  कल्लप्पान्ना अवेड इचलकरंजी जनता सहकारी बैंक लिमिटेड
  • 57 . गुजरात राज्य सहकारी बैंक लिमिटेड
  • 58.  द हस्ती सहकारी बैंक लिमिटेड
  • 59.  महानगर सहकारी। बैंक लिमिटेड
  • 60.  केरल ग्रामीण बैंक
  • 61.  प्रगति कृष्ण ग्रामीण बैंक
  • 62.  कर्नाटक विकास  ग्रामीण बैंक
  • 63.  आंध्र प्रगति ग्रामीण बैंक
  • 64.  प्रथम बैंक
  • 65.  महाराष्ट्र ग्रामीण बैंक
  • 66.  पूर्वांचल बैंक
  • 67.  छत्तीसगढ़ राज्य ग्रामीण बैंक
  • 68.  आंध्र प्रदेश ग्रामीण विकास बैंक
  • 69 . जनता सहकारी बैंक पुणे
  • 70.  बंधन बैंक
  • 71.  फिनो भुगतान बैंक
  • 72.  इलाहाबाद यूपी ग्रामीण बैंक
  • 73. सौराष्ट्र ग्रामीण बैंक
  • 74.  मालवा ग्रामीण बैंक
  • 75.  तेलंगाना ग्रामीण बैंक
  • 76.  उत्तराखंड ग्रामीण बैंक
  • 77 . वानंचल ग्रामीण बैंक
  • 78.  मेघालय ग्रामीण बैंक
  • 79.  कॉसमॉस बैंक
  • 80.  कावेरी ग्रामीण बैंक
  • 81.  तमिलनाड मर्केंटाइल बैंक
  • 82.  राजस्थान मारुधर ग्रामीण बैंक
  • 83.  मिजोरम ग्रामीण बैंक
  • 84.  बेसिन कैथोलिक कूप बैंक
  • 85.  लैंगपी देहंगी ग्रामीण बैंक
  • 86.  आदित्य बिड़ला
  • 87.  असम ग्रामीण विकास बैंक
  • 88.  विश्वेश्वर सहकारी बैंक लिमिटेड
  • 89.  जलगांव जनता सहकारी बैंक
  • 90. मणिपुर ग्रामीण बैंक
  • 91.  त्रिपुरा ग्रामीण बैंक
  • 92.  डोंबिवली नागिक सहकारी बैंक
  • 93.  काशी गोमती सम्युत ग्रामीण बैंक
  • 94.  चैतन्य गोदावरी ग्रामीण बैंक
  • 95.  देना  गुजरात ग्रामीण बैंक

दोस्तों आज के इस पोस्ट में हमने जाना कि UPI क्या है, और ये कैसे काम करता है, और आप UPI का इस्तेमाल कैसे कर सकते है। अगर आपको इस पोस्ट से रिलेटेड कोई भी सवाल है, तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखे।

Related posts:



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *