Business

कैसे शुरू करें ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर – कम्पलीट गाइड

कैसे शुरू करें ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर - कम्पलीट गाइड

दोस्तों क्या आपने पहले कभी ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर बिज़नेस के बारे में सोचा है। कैसे शुरू करें ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर – कम्पलीट गाइड

दोस्तों आज की तारीख में जिस तरह से ई- कॉमर्स इंडस्ट्री आगे बढ़ रही है, ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर का बिज़नेस का बहुत स्कोप है। आइये आज इस पोस्ट में हम जानेंगे कि आप कैसे शुरू करें ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर।

कैसे शुरू करें ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर:

(How to start online grocery store)

आजकल बिजी लाइफ में लोगों को अपने घर के सामान खरीदने का समय नहीं है। इसके लिए वह ऑनलाइन शॉपिंग बेहतर समझते हैं साथ ही स्मार्टफोन भी आज सबके हाथ में है जो ऑनलाइन काम को और भी आसान बना देता है।

इसलिए ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर खोलने का बिजनेस भारत में सबसे फायदेमंद और तेजी से बढ़ने वाला बिजनेस है।

यही नहीं आज ऑनलाइन ग्रोसरी बिजनेस में बहुत काम्पिटीशन है।

इस समय भारत में बड़े कारपोरेट जैसे Big Bazaar, Grofers, Bigbasket और Amazon भी इस धंधे में दाव खेल रहे हैं।

इसलिए अगर आप छोटे स्तर पर यह बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो लोकल लेवल पर अपने कस्टमर खोजें, इससे आप फायदे में रहेंगे। 

सबसे पहले जगह और कस्टमर खोजें:

ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर की एक खास बात यह है कि इसमें जल्दी खराब होने वाले सामान जैसे सब्जियां, फल, दाल और अनाज होते हैं।

इसलिए आप कोशिश करें कि कस्टर के पास सामान क्वालिटी के साथ जल्दी पहुंचें।

अपने डिलवरी के प्लान को बेहतरीन बनाएं।

साथ ही इस बात का ख्याल रखें कि आप जिन कस्टमर को सामान बेचते हैं उनकी खाने और खरीदते की आदतें कैसी हैं?

आप उन items पर अधिक focus करें जो तेजी से बिक रही हों उन्हीं को स्टॉक में रखें।

ज्यादा stock इकट्ठा करने से सामान खराब होने का डर बना रहता है। 

अपने बिजनेस को रजिस्टर करें:

आपके ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर का रजिस्टर होना भी जरूरी है। रजिस्ट्रेशन में इस बात का ख्याल रखें कि आप अकेले हैं या आपके साथ कोई पार्टनर है। अगर कोई बिजनेस पार्टनर है तो उसके साथ अपना बिजनेस रजिस्टर करें।

यही नहीं आप किसी tax consultant या chartered accountant की भी मदद ले सकते हैं, जो आपको रजिस्ट्रेशन में भी मदद करेगा और आपको GST से जुड़े बातें भी बता देगा।

एक बार अपना बिजनेस रजिस्टर करने के बाद किसी भी बैंक में आप अपना बिजनेस एकाउंट खोल सकते हैं। 

बिजनेस को समझे और उस पर कुछ रिसर्च करें:

सबसे पहले आप बिजनेस के nature को समझे। इस बिजनेस में आपके पास डिलवरी के लिए समय बहुत कम होता है और चीजें जल्दी खराब होती हैं।

इसलिए आप लोकल कस्टमर और फार्महाउस खोजें जहां से आप सामान लेकर बेच सकते हैं।

इसके अलावा आप अपने स्टोर में ऐसे सामान भी बेच सकते हैं, जिनमे किसी तरह का कोई पेस्टिसाइड इस्तेमाल नहीं किया गया हो।

आपको ऐसे मार्केट या किसानों की खोज करनी चाहिए जो बिना पेस्टिसाइड के अनाज और सब्जियां उपजा रहे हो। 

कुछ जगह की होगी जरूरत:

आप इस बात के लिए तैयार रहें कि ऑनलाइन बिजनेस से आपको कुछ जगह चाहिए होगी जिसमें आप गोदाम बना सकें।

गोदाम में सब्जियों, फलों और अनाज को सुरक्षित रखना जरूरी है।

कस्टमर को मॉल सप्लाई करने के लिए आपको विश्वसनीय सप्लायर और होलसेलर से कांटेक्ट करना होगा।

जिन सामनों की रोज सप्लाई करने के लिए आप इन्हें गोदाम में स्टोर करके रखें।

ऑनलाइन ग्रोसरी की वेबसाइट बनाएं:

अगर आप डिलवरी से जुड़ी चीजों को अपने कंट्रोल में रखना चाहते हैं तो ऑनलाइन ग्रोसरी बिजनेस के तरीके सीखें।

इसके लिए आप सबसे पहले अपनी वेबसाइट बनाएं।

वेबसाइट बनाकर आप अपने आइडिया को बेहतर तरीके से पेश कर सकते हैं।

साथ ही वेबसाइट के जरिए आप ऑफिस, स्टाफ की सैलरी और बिजली के बिल का खर्च भी बचा सकते हैं।

तो आप क्या सोच रहे हैं एक अच्छा वेबसाइट डिजाइनर खोज कर अपनी वेबसाइट डिजाइन करवाएं। इसके लिए best e-commerce templates चुनें।

साथ ही इसे smartphone friendly बनाएं जिससे आपके कस्टमर बिनी किसी परेशानी के सामान खरीद सकें।

अपना डिलवरी सिस्टम ठीक रखें:

ऑनलाइन ग्रोसरी बिजनेस में डिलवरी सिस्टम का खास महत्व है। डिलवरी जितनी तेजी से होगी आपका बिजनेस उतना ही बढ़ेगा।

इसलिए मजबूत डिलवरी सिस्टम ऑनलाइन ग्रोसरी सिस्टम को आगे बढ़ाने के लिए जरूरी है।

भारत में बहुत से ऐसे कस्टमर हैं जो आर्डर वाले दिन ही डिलवरी चाहते हैं।

लेकिन स्टॉफ और सवारियों के बिना ये सब सम्भव नहीं है इसलिए कर्मचारियों और ट्रांसपोर्ट का खास ख्याल रखें। 

अगर आपको 5-6 किमी में सामान की डिलवरी करनी है तो डिलवरी बॉय के लिए two-wheeler एक बेहतर ऑप्शन होता है।

लेकिन ये आइडिया पापुलर पिज्जा चेन के लिए ट्रैफिक जाम के समय काफी मुश्किल भरा होता है। 

मार्केटिंग प्लान करें:

ऑनलाइन ग्रोसरी बिजनेस में मार्केटिंग प्लान करना जरूरी है।

इस बिजनेस में जब Bigbasketऔर Amazon जैसे बड़े खिलाड़ी हों तो आपको अपने मार्केटिंग प्लान पर न केवल ज्यादा ध्यान देने की जरूरत है बल्कि कुछ अलग रास्ते अपनाने की भी जरूरत होगी।

इसके लिए अपना प्रचार करने के लिए pamphlet बांटे, लोकल न्यूजपेपर में अपना प्रचार करें।

बहुत से sms भेजें, door to door लोगों से मिलें और सोशल मीडिया में कैम्पेन चलाएं।

इसके अलावा अपने आसपास hoardings भी लगाएं। 

टेकनोलॉजी को बेहतरीन बनाएं:

ऑनलाइन ग्रोसरी बिजनेस में टेकनोलाजी के बिना आप कुछ नहीं कर सकते।

इसलिए बेहतर होगा कि आप बिजनेस शुरू करने से पहले टेकनोलॉजी को मजबूत करें।

इसलिए आप अपनी वेबसाइट और एप को बेहतर बनाएं।

साथ ही आपके टेकनोलॉजी पार्टनर को आपके website और app के सभी फीचर्स के बारे में ठीक से जानकारी होनी चाहिए और उनकी तकनीकी मुश्किलों को ठीक कर सके।

ग्रोसरी स्टार्टअप वेबसाइट  के साथ मोबाइल एप भी बेहतर होना चाहिए।

ऑनलाइन ग्रोसरी के बिजनेस में वेबसाइट और मोबाइल फास्ट, सुरक्षित और आसानी से इस्तेमाल करने वाला होना चाहिए। 

पेमेंट का मैथेंड चुनें:

ऑनलाइन ग्रोसरी बिजनेस में पेमेंट के मैथेड को बेहतरीन बनाएं। ध्यान दें अगर आपके पास विश्वसनीय डिलवरी सिस्टम है तो आप कैश आन डिलवरी इस्तेमाल कर सकते हैं।

ये आपके लिए पेमेंट का सबसे अच्छा तरीका है। इस तरीके में आपके पास सबसे जल्दी और सुरक्षित तरीके से कैश आ जाता है और आप आगे अपने काम में इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

साथ ही आप कैश ऑन डिलवरी के अलावा इलेक्ट्रानिक पेमेंट का रास्ता भी अपना सकते हैं।

इलेक्ट्रानिक पेमेंट में ऑनलाइन बैंकिंग, ई-वॉलेट, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड से पेमेंट चुन सकते हैं। 

बेहतर सर्विस बेहतर बिजनेस:

जी हां ऑनलाइन ग्रोसरी बिजनेस का एक बहुत अच्छा नियम है कि आप की सर्विस जितनी अच्छी होगी आप उतने ही फायदे में होगा।

एक बार सर्विस खराब होने पर कस्टमर दुबारा आर्डर करने में झिझकता जरूर है।

इसलिए अपनी बिजनेस का फायदे के लिए सर्विस को बेहतर बनाएं।  

कम निवेश में ज्यादा बचत:

ऑनलाइन ग्रोसरी बिजनेस में वैसे तो बहुत बड़ी कम्पनियां जैसे Walmart, Bigbasket, और Amazon शामिल हैं लेकिन जब आप इस खेल में शामिल हो रहे हैं थोड़ा सम्भल जाएं।

2020 तक ग्रोसरी का बिजनेस कुल रेवेन्यू का 66 फीसदी होगा। यह लो मार्जिन का बिजनेस है इसमें आपको 12-15 % रिटेलर को देना होता है।

डिलवरी में 25% तक खर्च हो जाते हैं । इस तरह अगर आप 100 रुपए का सामान बेचते हैं तो 40 रूपए का negative margin होता है। बाकि 60 रुपए में और खर्चे भी शामिल होते हैं।

इस तरह अगर आप 1 लाख से कम के बजट में यह बिजनेस शुरू करते हैं आपको फायदे होंगे।

ऑनलाइन ग्रोसरी आपको कैसे खोलनी हैं इसकी पूरी जानकारी इस आर्टिकल में दी हुई हैं, उम्मीद करता हू कि इस आर्टिकल के द्वारा आपको अपने ऑनलाइन ग्रोसरी बिज़नेस को खोलने में अवश्य सहायता मिलेगी।

दोस्तों ये पोस्ट कैसे शुरू करें ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर, आपको कैसा लगा मुझे कमेंट बॉक्स में जरूर बतायें।

अगर आप का इस बिज़नेस को लेकर कोई सुझाव है, तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

Related Posts :

About author

Articles

मैं अपने इस ब्लॉग पे इंटरनेट, मोबाइल, कंप्यूटर कैर्रिएर से रिलेटेड आर्टिकल पोस्ट करता हु और ये उम्मीद करता हूँ कि ये आपके लिए सहायक हो। अगर आपको मेरा आर्टिकल पसंद आये तो आप इसे लाइक ,कमेंट अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे और आपको मुझे कोई भी सुझाव देना है तो आप मुझे ईमेल भी कर सकते है। मेरा ईमेल एड्रेस है – hindipost.net@gmail.com.
Related posts
BusinessCareer

Amazon पर ऑनलाइन सामान कैसे बेचें?

Online, online और online अब बस इसी का बोलबाला है। Banking…
Read more
Earn Money OnlineEntrepreneurship

Amazon सेलर अकाउंट कैसे बनाये?

Amazon पर ऑनलाइन बेचना लाखों संभावित…
Read more
Motivational

Flipkart की सफलता की कहानी

Flipkart की सफलता की कहानी : फ्लिपकार्ट आज…
Read more

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!