अपने बिज़नेस को डिजिटल कैसे बनायें-कम्पलीट गाइड





अपने बिज़नेस को डिजिटल कैसे बनायें?

दोस्तों बिज़नेस चाहे बड़ा हो या छोटा, आजकल बिज़नेस को डिजिटल होना जरूरी है। वैसे कम बजट के बिजनेस का डिजिटीलाइजेशन मुश्किल है लेकिन बिना डिजिटल हुए मार्केट में अपने बिजनेस को टिकाए रखना मुश्किल है।

छोटे बिजनेस को की डिजिटल मार्केटिंग थोड़ी मुश्किल है लेकिन यह जरूरी है।

जब हम अपने अपने बिजनेस को डिजिटल करने की सोचते हैं तो हम बहुत सी बातों को लेकर कन्फ्यूज हो जाते हैं।

आपको बिज़नेस को डिजिटल बनाने के लिए कौन सी ट्रिक अपनानी चाहिए, किस तरीके को अपनाने से आपको बहुत फायदा होगा और किन तरीकों से कम समय में ज्यादा फायदा पा सकेंगे।

बिज़नेस को डिजिटल कैसे बनायें:

यहां कुछ टिप्स दिए गए हैं जिनको फालो कर आप अपने बिजनेस को डिजिटल बना सकते हैं।

बेसिक चीजों को न भूलें:





अगर आप अपने बिजनेस को डिजिटल करने जा रहे हैं तो बेसिक बातों को कभी न भूलें।

जैसे अपना पता और फोन न. वेबसाइट पर डाल दें।

साथ ही साथ अपने कंपनी की कई अन्य मुख्य जानकारियाँ भी आप अपने वेबसाइट पर डालना न भूले।

सोशल मीडिया पर दें ध्यान:

आजकल सोशल मीडिया पर लोग बहुत एक्टिव रहते हैं इसलिए अपने बिजनेस को सोशल मीडिया से जरूर जोड़े।

सोशल मीडिया से जुड़ना आपके बिजनेस को फायदेमंद बनाएगा।

सोशल मिडिया में विज्ञापन देकर आप अपने बिज़नेस को डिजिटल तरीके से आगे ले जा सकते हैं।

जैसे Facebook, Twitter, Instagram, LinkedIn, Whats App आदि |

कम खर्च में छोटे बिजनेस को करें डिजिटल:

आप अपने छोटे से बिजनेस को अगर डिजिटल करना चाह रहे हैं तो आपको ज्यादा खर्च नहीं करना पड़ेगा।

बस आप एक कम्प्यूटर लें, इंटरनेट लगावाएं और वेबसाइट बनाएं।




इस तरह से कम निवेश आप अपने बिजनेस को आगे बढ़ाने का रास्ता खोज सकते हैं। 

शेयर करने वाला कंटेंट बनाएं:

आपका कंटेंट आपके बिजनेस को आगे बढ़ा सकता है इसलिए कंटेंट पर ध्यान दें।

जहां एक ओर खराब किस्म का कंटेंट आपके बिजनेस की इमेज को खराब कर आपके ब्रांड को बर्बाद कर देगा।

वहीं दूसरी ओर अच्छी quality का कंटेंट आपके बिजनेस को न केवल आगे बढ़ाएगा बल्कि आडियंस के रिश्ते भी अच्छा करेगा। इसलिए अच्छे कंटेंट के लिए सही राइटर चुनें।

साथ ही अच्छा कंटेट अगर ठीक आदमी के हाथ में नहीं है तो वह बिजनेस को नुकसान पहुंचा देगा।

अच्छा कंटेंट सही आदमी के हाथ में रहने पर मार्केटिंग लक्ष्य हासिल करने में आसानी होगी।

साथ ही इससे आप अपने आडियंस के सवालों का सही जवाब दे सकेंगे।

इसके अलावा ऐसा कंटेंट बनाएं जो आपके ऑडिंयस के इमोशनस को जोड़ सके। कंटेंट को सुपर यूजफुल और प्रैक्टिकल बनाएं।

डेस्कटॉप और मोबाइल दोनों के लिए हो बेहतर:





अपने बिजनेस को डिजिटलाइज करते समय करते इस बात को ध्यान में रखें कि वह मोबाइल और डेस्कटॉप दोनों के लिए बेहतर हो।

मोबाइल और डेस्कटॉप दोनों के इस्तेमाल में आने वाला कंटेंट थोड़ा मुश्किल होता है।

लेकिन अगर आप अपने बिजनेस को बढ़ाना चाहते हैं तो आपको दोनों के साथ काम करने वाले बिजनेस रखना होगा।

साथ में यह भी ध्यान रखें कि आपके कस्टमर इस डिजिटल बिजनेस में कैसे एंगेज हो सकेंगे। 

डेस्कटॉप के लिए बनाते समय इस बात का ख्याल रखें कि usersइस्तेमाल तो करते हैं लेकिन कभीकभी ही एक्टिव रहते हैं।

इस बात का भी ध्यान रखें कि किस तरह की वेबसाइट को लोग पसंद करते हैं और कैसा पेज लाइक करते हैं।




जब आप मोबाइल के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं तो ऐसा बनाएं जो काम करने में बेहतर हो और उसके सभी फीर्चस में कोई कंन्फ्यूजन न हो।

इसलिए मोबाइल फ्रेंडली वेबसाइट बनाएं और और बेहतर कैसे बना सकते हैं इस पर भी ध्यान दें।

रेगुलर टेस्ट करें:

बिना टेस्ट के छोटे बिजनेस की डिजिटल मार्केटिंग आसान नहीं है। नए इंसान के लिए बिना टेस्ट किए हुए छोटा बिजनेस ठंडे बस्ते में चला जाएगा।

छोटा बिजनेस को हर समय छोटे से बड़ी चीजों को टेस्ट करना होता है।

टेस्ट करने से आप बेहतर चीजे आप सकेंगे और अच्छा इनवेस्ट कर सकेंगे।

effective testing, step by step किया जाता है इसे आप रातों रात नहीं कर सकते। इसमें समय लगाना महत्वपूर्ण होता है। 

वेबडिजाइनिंग पर फोकस करें:





छोटे बिजनेस के लिए वेबसाइट डिजाइन करें। वेबसाइट डिजाइन करवाते समय इस बात का ध्यान रखें कि इतना attractive हो कि बार-बार इस पर कस्टमर आएं। साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि इससे आसानी से काम हो सके।

इसके लिए ध्यान रखें कि डिजाइन बनवाते समय उसका conversion rate high रखें। साथ ही आपकी साइट बनाते समय ध्यान रखें कि यह दिखने में सुंदर हो। 

सुंदर साइट बनवाने में पैसे ज्यादा खर्च होंगे लेकिन आपके बिजनेस के लिए अच्छा होगा।

इसलिए आप हमेशा किसी एक्सपर्ट से ही वेबसाइट डिजाइन कराएं।

सोशल प्रूफ पॉवर से उठाएं फायदे:

छोटे बिजनेस को डिजिटलाइज करने के साथ सोशल प्रूफ का भी ध्यान रखें। जब आप अच्छी quality का सामान बेचते हैं।

और आपकी वेबसाइट भी अच्छी है तो ऐसे में आपके बिजनेस को बढ़ाने के लिए आपको social proof की जरूरत होती है। 

सोशल प्रूफ से ही आपका कस्टमर आपके ऊपर विश्वास करेगा। कस्टमर आपके ऊपर तभी विश्वास करेगा जब अपनी वैलिडिटी प्रूफ करेंगे।

इसके लिए आप अपने कस्टमर या क्लाइंट से अपने बिजनेस के लिए अच्छा फिडबैक देने के लिए रिक्वेस्ट कर सकते हैं।   

टारगेट इमेल की लिस्ट बनाएं:





छोटे बिजनेस को डिजिटल बनाने में इमेल का जरूरी रोल है। आप अपने बिजनेस के अनुभवी लोगों से इस बारे में बात कर सकते हैं कि उन्होंने कैसे इमेल लिस्ट को टारगेट किया।

और अपने बिजनेस को सफल बनाया। इसके लिए जरूरी है कि आपके अपने कस्टमर की इमेल आईडी होनी चाहिए जिस पर आप इमेल भेज सकें।

 ट्विटर, फेसबुक या दूसरे सोशल नेटवर्किंग साइट्स से 40 गुना ज्यादा फायदेमंद होता है इमेल करना।

इसलिए इमेल लिस्ट को टारगेट करना आपके बिजनेस को आगे बढ़ाएगा। 

वेबिनार पर भी दें ध्यान:

जी हां अगर आप अपने बिजनेस को डिजिटल करने जा रहे हैं तो वेबिनार पर भी जरा ध्यान दें।

तो अगर आप वेबिनार के बारे में नहीं जानते हैं तो हम आपको बताते हैं कि वेबिनार क्या है?

वेबिनार एक तरह का ऑनलाइन सेमिनार है जिसमें आप शामिल हो सकते हैं।

वेबिनार में तीन चीजे शामिल हो सकती हैं –प्रेजेनटेशन, डिमोंसट्रेशन और डिस्कशन।

वेबिनार के साथ एक खास बात यह है कि यह एक निश्चित समय पर शुरू होता है। और खास टाइम पर खत्म हो जाता है।




इससे आप सीख सकते हैं कि वीडियो को कैसे बेहतर तरीके से पेश करें।  

इस प्रकार के छोटे-छोटे स्टेप्स को अपनाकर आप भी अपने बिज़नेस को डिजिटल कर सकते हैं।

दोस्तों आज के इस हिंदीपोस्ट के जरिये हमने जाना कि बिज़नेस को डिजिटल कैसे बनाये।

आपको ये पोस्ट कैसा लगा आप मुझे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।

अगर आपके पास बिज़नेस को डिजिटल बनाने को लेकर कोई बेहतर सुझाव है, तो आप मुझे लिखें।

Related posts:

कम पैसों में शुरू करें अपना बिजनेस

कैसे शुरू करें ऑनलाइन ग्रोसरी स्टोर

ट्रैवल एजेंसी का बिजनेस कैसे शुरू करें



Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *