Affiliate Marketing क्या होता है, और इससे पैसे कैसे कमाए

Share this post

आज के बदलते दौर में डिजिटलाइजेशन (Digitalization) ने मार्केटिंग क्षेत्र (Marketing Field) की सम्भावनाओं को और विस्तृत कर दिया है। हमारे इर्द-गिर्द चारो ओर बड़ी संख्या में ग्राहक ऑनलाइन शॉपिंग/मार्केटिंग की बात करते हुए दिखाई देते हैं। जिसका पूरा-पूरा फ़ायदा ई-कॉमर्स(E-Commerce) कम्पनियां उठा रही हैं। और जिसके चलते वो ग्राहकों से जुड़ने और प्रचार के लिए एफिलिएट मार्केटिंग(Affiliate Marketing) का सहारा ले रही हैं। आखिर ये Affiliate Marketing (एफिलिएट मार्केटिंग) क्या होता है? और इसका फ़ायदा ऑनलाइन कम्पनियों के अलावा किसे और कैसे हो रहा है? साथ ही Affiliate Marketing के माध्यम से आप स्वयं कैसे पैसा कमा सकते हैं? तो दोस्तों आज के इस पोस्ट में मैं इसी के बारे में बात करने वाला हु।

Affiliate Marketing क्या होता है:

Affiliate Marketing का प्रयोग आज व्यापार/मार्केटिंग(Business/Marketing) जगत में काफी धड़ल्ले से हो रहा है। इस मार्केटिंग के माध्यम से इ-कॉमर्स(E-Commerce) कम्पनियां ग्राहकों को जोड़ने और प्रचार करने का काम करती हैं, इस मार्केटिंग की प्रक्रिया में आम यूज़र्स(Users) का ही सहारा लिया जाता है और जब कम्पनियों को मुनाफा मिलता है तो उसका कुछ प्रतिशत वो यूज़र्स को कमीशन के रूप में दे देती हैं जिससे प्रचार की प्रक्रिया में शामिल यूज़र्स की भी अच्छी कमाई हो जाती है।

Affiliate Marketing के फायदे :

ऑनलाइन कमाई करने वालों के लिए घर बैठे कमाई करने का एक आसान जरिया बन चुका है एफिलिएट मार्केटिंग (Affiliate Marketing) जिसके द्वारा न केवल इ-कॉमर्स (E-Commerce) कम्पनियां अपितु वेबसाइट प्रमोटर(Website Promotor), ब्लॉगर (Blogger), आदि सभी पैसा बना सकते हैं।

Affiliate Marketing कैसे काम करता है:

Affiliate Marketing कैसे काम करता है, इससे पहले इस प्रक्रिया के लिए उपयोगी keywords की परिभाषा जानना अनिवार्य है। उपयोगी keywords कुछ इस प्रकार हैं:

  • एफिलिएट(Affiliate) – Affiliate Program को join करने वाले वे व्यक्ति जो प्रोडक्ट को अपने वेबसाइट या ब्लॉग पर प्रमोट करते हैं, एफिलिएट(Affiliate) कहलाते हैं |
  • एफिलिएट मार्केट प्लेस(Affiliate Market Place): Affiliate Program Offer करने वाली कंपनियां एफिलिएट मार्किट प्लेस (Affiliate Market Place) कहलाती हैं|
  • एफिलिएट आईडी(Affiliate Id) : ये एक यूनीक आईडी(Unique Id) होता है जो sign-up करने पर प्राप्त होता है और जिसके जरिये Affiliate को sales में जानकारियां जुटाने में मदद मिलती है|
  • एफिलिएट लिंक्स(Affiliate Links): ये वे लिंक होते हैं जो Affiliate को प्रोडक्ट प्रमोशन के लिए दिए जाते हैं, इस लिंक को क्लिक करके विज़िटर्स किसी वेबसाइट पर पहुंचते है जहाँ वो कोई प्रोडक्ट खरीद सकते हैं साथ ही ये लिंक का प्रयोग करके Affiliate Program वाले sales को भी ट्रैक करते हैं|
  • कमीशन(Commission): Affiliate)को प्रत्येक sales के हिसाब से दी जाने वाली राशि, कमीशन(Commission) कहलाती है जो sale का कुछ प्रतिशत हो सकती हैं या फिर पूर्व निर्धारित राशि होती है|
  • लिंक क्लॉकिंग(Link Clocking): ज्यादातर जगहों पर Affiliate Links थोड़े लम्बे और अजीब दिखते हैं तो ऐसे लिंक्स को यूआरएल शॉर्टनर(URL Shortner) का प्रयोग करके छोटा बनाया जाता है जिसे लिंक क्लॉक कहते हैं|
  • एफिलिएट मैनेजर(Affiliate Manger) : Affiliate Program में Affiliate की मदद के लिए कुछ व्यक्ति नियुक्त किये जाते हैं जिन्हे एफिलिएट मैनेजर(Affiliate Manager) कहा जाता है|
  • पेमेंट मोड(Payment Mode): कमीशन राशि प्राप्त करने का माध्यम पेमेंट मोड कहलाता है, जिसे अलग-अलग Affiliate द्वारा जो पेमेंट मोड ऑफर द्वारा पाया जा सकता है, जैसे Cheque, Wire Transfer, Paypal, आदि।
  • पेमेंट थ्रेसहोल्ड(Payment Threshold): Affiliate Marketing में कमीशन कुछ minimum sale के बाद payment earning करने पर बनता है, इसे ही पेमेंट थ्रेसहोल्ड(Payment Threshold) कहा जाता है|

Affiliate Marketing कैसे काम करता है:

डिजिटल होने का सबसे बड़ा फ़ायदा जो हमें मिला है वो ये है कि आज हम घर बैठे ऑनलाइन तरीकों से भी पैसे कमा सकते हैं| इसमें ई-कंपनियों के साथ ही यूज़र्स का भी फ़ायदा हो जाता है और इस फायदे को यूज़र्स तक पहुंचाने का काम करती है

Affiliate Marketing के कुछ आसान से चरण होते हैं जिनको पूरा करके आप income कमा सकते हैं:

  • सबसे प्रथम चरण ये है कि जब कोई कंपनी अपने प्रोडक्ट को प्रमोट करना चाहती है तो वो Affiliate Program Offer करती है|
  • उसके बाद वेबसाइट ओनर या ब्लॉगर जैसे व्यक्ति उस प्रोग्राम को ज्वाइन करते हैं|
  • ज्वाइन करने के बाद कंपनी या ऑर्गनाइज़ेशन उसे अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर उनके प्रोडक्ट्स प्रमोट करने के लिए बैनर या लिंक देती है|
  • वेबसाइट ओनर या ब्लॉगर उस लिंक या बैनर को अलग-अलग प्रकार से लगता है|
  • इस प्रक्रिया के होने के बाद विजिटर्स जब ब्लॉग या वेबसाइट पर आते हैं तो उस लिंक या बैनर पर क्लिक करते ही वो Affiliate Program Offer करने वाली कंपनी की वेबसाइट पर पहुँच जाते हैं जहाँ वे कोई चीज खरीदते हैं या सर्विस के लिए sign-up करते हैं तो..
  • वो कंपनी या ऑर्गनाइज़ेशन वेबसाइट ओनर या ब्लॉगर को कमीशन देते हैं|

Affiliate Marketing से कैसे पैसे कमायें:

घर बैठे ऑनलाइन तरीके से कमाई करने वालों  काफी लोक्रपिया एफिलिएट मार्केटिंग(Affiliate Marketing) से आप खुद कैसे पैसे कमा सकते हैं उसके लिया आपको कुछ प्रक्रियाओं का पालन करना पड़ता है:

  •  जब आप किसी कंपनी का एफिलिएट प्रोग्राम(Affiliate Program) ज्वाइन करना चाहते हैं, तो उसके एफिलिएट(Affiliate) पेज में जाना होता है जैसे यदि आप ebay के एफिलिएट प्रोग्राम(Affiliate Program) को ज्वाइन करना चाहते हो तो आपको वहां एक Account Create करना होगा और उसमे निम्न जानकारियां देनी होगी:
  1. नाम 
  2. पता
  3. ईमेल आईडी 
  4. मोबाइल नंबर
  5. पैन कार्ड डिटेल 
  6. ब्लॉग या वेबसाइट लिंक
  7.  पेमेंट डिटेल्स
  • रजिस्टर कर लेने के बाद कंपनी ब्लॉग को चेक करके कन्फर्मेशन मेल send करती है|
  • रजिस्टर करने के बाद जब लॉगिन(Login) करेंगे तो डैशबोर्ड(Dashboard) आएगा जहाँ आपको प्रोडक्ट चुन करके एफिलिएट लिंक(Affiliate Link) को कॉपी कर लेना है|
  • उसे अपने ब्लॉग या वेबसाइट पर शेयर कर देना है जहाँ से लोग प्रोडक्ट को खरीदें और आप पैसा कमा सकें|

Affiliate Marketing के कौन सी वेबसाइट पे signup करें :

दोस्तों अगर आप affiliate marketing क्या होता है , और इससे पैसे कैसे कमाते है- इसके बारे में जानने के बाद अगर आप इंटरस्टेड है आप नीचे दिए गए वेबसाइट के affiliate program को singup कर सकते है।

  1. Amazon Affiliate
  2. Ebay Affiliate
  3. Flipkart Affiliate
  4. Clickbank
  5. Commision Junction
  6. ShareASale
  7. Avangate

दोस्तों ऊपर दिए किसी भी affiliate network को आप join करके affiliate network से पैसे कमा सकते है।

Related posts:

उम्मीद करता हु की आपको ये पोस्ट -Affiliate Marketing क्या होता है, और इससे पैसे कैसे कमाए- पसंद आया तो आप इसे लाइक, शेयर और कमेंट करना न भूले। अगर आपको इससे रिलेटेड कोई भी सवाल पूछने हो , आप मुझे कमेंट बॉक्स में जरूर लिखें।




Share this post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.